S M L

विंटर ओलिंपिक 2018: तस्वीरों में देखिए कितना भव्य रहा उद्घाटन समारोह

फिगर स्केटिंग की पूर्व स्वर्ण विजेता दक्षिण कोरिया की किम युना ने मशाल से ओलिंपिक ज्योत प्रज्ज्वलित की.

FP Staff Updated On: Feb 10, 2018 04:48 PM IST

0
विंटर ओलिंपिक 2018: तस्वीरों में देखिए कितना भव्य रहा उद्घाटन समारोह

दक्षिण कोरिया के प्योंगचेंग में विंटर ओलिंपिक खेलों का आगाज हो चुका है. 9 फरवरी से 25 फरवरी तक चलने वाले इस ओलिंपिक में सबसे खास बात ये है कि उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के खिलाड़ी एक झंडे के नीचे खेलेंगे. फिगर स्केटिंग की पूर्व स्वर्ण विजेता दक्षिण कोरिया की किम युना ने मशाल से ओलिंपिक ज्योत प्रज्ज्वलित की.

Pyeongchang: Shiva Keshavan carries the flag of India during the opening ceremony of the 2018 Winter Olympics in Pyeongchang, South Korea, Friday, Feb. 9, 2018.AP/PTI(AP2_9_2018_000115B)

वहीं भारत के ल्यूज एथलीट शिवा केशवन ने समारोह में तिरंगे को थामकर भारतीय टीम की अगुवाई की केशवन के अलावा जगदीश स्कीइंग में भारत का नेतृत्व कर रहे हैं.

winter

किम युना ने शीतकालीन ओलिंपिक की ज्योत प्रज्ज्वलित करने को भावनात्मक पल बताते हुए कहा कि उन्हें डर था कि कही मशाल गिर ना जाए. वैंकूवर खेल 2010 में स्वर्ण पदक जीतने वाली इस 27 वर्षीय खिलाड़ी ने चार साल बाद सोच्चि में रजत पदक अपने नाम किया था.

winter

समारोह में किम को दोनों कोरियाई देशों की संयुक्त महिला हॉकी टीम की खिलाड़ी चुंग सु ह्योन (उत्तर कोरिया) और पार्क जो्ंग-आह (दक्षिण कोरिया) ने मशाल थमाया, जिसे लेकर वह 120 सीढ़ियां चढ़ी और  ज्योत प्रज्ज्वलित की.

winter

उन्होंने कहा मैं दस साल से स्केटिंग कर रही हूं लेकिन यह पहली बार है जब मैंने इतनी ऊचाई पर स्केटिंग का प्रदर्शन किया. जब आप स्पर्धा के लिए बर्फ पर होते हैं तो आप वास्तव में भीड़ को नहीं देख पाते हैं.

winter

आप बस गिरने से बचने के बारे में सोचते है और अपने स्केटिंग पर ध्यान केंद्रित करते हैं.’ उन्होंने ने कहा, ‘‘ मैंने पहली बार इतने सारे लोगों के सामने ऐसा किया.यहां  ज्योत प्रज्ज्वलित करना सपने की तरह था.मैं काफी भावुक हो गयी थी.’’

winter 2

गौरतलब है कि पिछले 24 वर्षों में यह सबसे ठंडा विंटर ओलिंपिक होगा. प्योंगचेंग का तापमान माइनस 10-20 डिग्री के बीच है दक्षिण कोरियाई शहर में रात को तापमान माइनस 20 डिग्री सेल्सियस से नीचे चला जाता है और दोपहर के समय में भी तापमान में बहुत सुधार नहीं देखने को मिल रहा है. दूसरी ओर वर्ष 2014 के सोच्चि ओलिंपिक में स्थिति काफी अलग थी. वहां दोपहर के समय धूप खिली रहती थी

फोटो साभार:ट्विटर

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi