S M L

Wimbledon 2018: पांच घंटे, 14 मिनट के खेल के बाद जोकोविच ने कटाया फाइनल का टिकट

जोकोविच ने राफेल नडाल को 6-4, 3-6, 7-6, 3-6, 10-8 से मात देकर टूर्नामेंट के फाइनल में अपनी जगह पक्की की

FP Staff Updated On: Jul 14, 2018 10:28 PM IST

0
Wimbledon 2018: पांच घंटे, 14 मिनट के खेल के बाद जोकोविच ने कटाया फाइनल का टिकट

24 घंटे के  इंतजार के बाद आखिरकार सर्बिया के नोवाक जोकोविच विंबलडन के फाइनल में जगह बनाने में कामयाब रहे. पांच घंटे, 14 मिनट तक चले मैच में स्पेन के राफेल नडाल को  6-4, 3-6, 7-6, 3-6, 10-8 से मात देकर पांचवीं बार टूर्नामेंट के फाइनल में अपनी जगह पक्की की. शुक्रवार को शुरू हुआ यह मैच शनिवार को अपने अंजाम में पहुंचा. मैदान पर उतरते समय जोकोविच 2-1 से आगे थे.

यहां 2011, 2014 और 2015 में खिताब जीत चुके जोकोविच का सामना अब दक्षिण अफ्रीका के केविन एंडरसन से होगा जो 97 साल में फाइनल में पहुंचने वाले अपने देश के पहले खिलाड़ी हैं. जोकोविच और नडाल का मुकाबला पांच घंटे, 14 मिनट तक चला. ये विंबलडन का दूसरे सबसे लंबा सेमीफाइनल मुकाबला था. इससे पहले एंडरसन और जान इस्नर के बीच पहला सेमीफाइनल छह घंटे, 36 मिनट तक चला था. वह टूर्नामेंट का सबसे लंबा चलने वाला सेमीफाइनल और ग्रैंडस्लैम में दूसरा सबसे लंबा सिंगल्स मैच था.

सर्बिया के जोकोविच अगर रविवार को खिताब जीत जाते हैं तो यह उनका 13वां ग्रैंडस्लैम होगा. वह नडाल से चार और रोजर फेडरर से सात खिताब पीछे होंगे. नडाल और जोकोविच का मैच शुक्रवार को पूरा नहीं हो सका और शनिवार तक खिंचा जिससे सेरेना विलियम्स और एंजेलिक कर्बर के बीच महिला फाइनल में विलंब हो गया.

जोकोविच ने जीत के बाद कहा,‘ मेरे पास शब्द नहीं हैं. मैं पिछले 15 महीने के बारे में सोच रहा हूं. दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी को इतने लंबे मैच में हराना आसान नहीं था. यह बहुत खास है. आखिरी शॉट तक पता नहीं था कि कौन जीतेगा.’  एंडरसन के खिलाफ जोकोविच का रिकॉर्ड 5-1 का है.

चौथे सेट में नडाल ने अच्छी शुरुआत की और दो गेम अपने नाम किए. इसके बाद नडाल की गलतियों का फायदा उठाते हुए जोकोविच ने लगातार अगले तीन गेम अपने नाम कर लिए. हालांकि इसके बाद से नडाल ने अग्रेसिव टेनिस खेलते हुए अगले दो गेम भी अपने नाम किए और मैच को पांचवें सेट तक पहुंचा दिया.

पांचवें सेट में दोनों के बीच हर अंक के लिए कड़ा संघर्ष दिखाई दिया. दोनों 12 गेम के बाद 6-6 से बराबरी पर थे. इसके बाद शुरू हुई असली जंग. बराबरी के बाद दोनों 18 गेम तक जीत के लिए जूझते रहे. आखिरकार नोवाक जोकोविच ने अंतिम बैकहैंड लगाते हुए पांचवें सेट के 18वें गेम को अपने किया और फाइनल में जगह बनाई.

 

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi