live
S M L

कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड जीतने वाली संजीता चानू डोप टेस्ट में फेल, छिन सकता है मेडल

संजीता के नमूने में प्रतिबंधित टेस्टोस्टेरोन स्टेरॉयड के लिए पॉजीटिव पाया गया है

Updated On: May 31, 2018 08:41 PM IST

FP Staff

0
कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड जीतने वाली संजीता चानू डोप टेस्ट में फेल, छिन सकता है मेडल

कॉमनवेल्थ गेम्स की दो बार की स्वर्ण पदक विजेता भारोत्तोलक संजीता चानू डोप टेस्ट में फेल हो गईं, जिसके बाद उन्हें अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया गया है. अंतरराष्ट्रीय भारोत्तोलन महासंघ (आईडब्ल्यूएफ) ने अपनी वेबसाइट पर बताया कि संजीता के नमूने में प्रतिबंधित टेस्टोस्टेरोन स्टेरॉयड के लिए पॉजीटिव पाया गया है. संजीता ने कॉमनवेल्थ गेम्स के महिलाओं के 53 किलोग्राम भार वर्ग में गोल्ड मेडल जीता था. उनका मेडल भी छिन सकता है.

आईडब्ल्यूएफ ने कहा कि उसने भारत की संजीता चानू खुमुकचाम के नमूने में प्रतिबंधित टेस्टोस्टेरोन पाया है जो डोपिंग रोधी नियम का संभावित उल्लंघन है और इसके कारण यह खिलाड़ी अस्थायी रूप से निलंबित रहेंगी. उन्होंने कहा, ‘अगर यह साबित होता है कि खिलाड़ी ने डोपिंग रोधी नियम का उल्लंघन नहीं किया है तो फैसले में बदलाव किया जाएगा.’ आईडब्ल्यूएफ ने डोप टेस्ट सैंपल लेने की तारीख जैसे अन्य विवरण नहीं दिए और कहा, ‘ आईडब्ल्यूएफ इस मामले के समाप्त होने तक और कोई टिप्पणी नहीं करेगा.’

संजीता ने पिछले साल नवंबर में अनाहेम (अमेरिका) में विश्व चैंपियनशिप में 53 किग्रा वर्ग में हिस्सा लिया था और कुल 177 किलोग्राम भार वर्ग उठा कर 13वें स्थान पर रही थीं. उन्होंने गोल्ड कोस्ट में 53 किग्रा भार वर्ग में कुल 192 किग्रा भार उठाकर गोल्ड मेडल जीता था. उन्होंने ग्लास्गो में 2014 कॉमनवेल्थ गेम्स में 48 किलोग्राम भार वर्ग में भी स्वर्ण पदक जीता था. चानू ने गोल्ड कोस्ट में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 में भारत के लिए गोल्ड मेडल जीता था. उन्होंने 53 किलोग्राम भारवर्ग में 192 किलो वजन उठाया था.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi