S M L

अंकिता ने हासिल की करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग, गुणेश्वरन एक स्थान नीचे खिसके

अंकिता रैना ने डब्ल्यूटीए सिंगल्स रैंकिंग में तीन स्थानों के सुधार के साथ करियर की सर्वश्रेष्ठ 165वीं रैंकिंग हासिल की है

Updated On: Feb 04, 2019 06:08 PM IST

Bhasha

0
अंकिता ने हासिल की करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग, गुणेश्वरन एक स्थान नीचे खिसके

भारतीय टेनिस खिलाड़ी अंकिता रैना ने सोमवार को जारी डब्ल्यूटीए सिंगल्स रैंकिंग में तीन स्थानों के सुधार के साथ करियर की सर्वश्रेष्ठ 165वीं रैंकिंग हासिल की, जबकि पुरुषों में प्रजनेश गुणेश्वरन एक स्थान के नुकसान के साथ 103वें स्थान पर खिसक गए. पिछले सप्ताह 168वें स्थान पर काबिज 26 साल की भारतीय खिलाड़ी के नाम 346 रेटिंग अंक हैं. शीर्ष दो सौ खिलाड़ियों में अंकिता इकलौती भारतीय हैं. उनके बाद करमन कौर थांडी (211) और प्रांजला यादलापल्लि (293) का नंबर आता है.

महिलाओं की डबल्स रैंकिंग में अंकिता 164वें स्थान पर हैं और वह 24 साल की प्रार्थना थोंबारे के बाद दूसरी शीर्ष भारतीय हैं. प्रार्थना रैंकिंग में 145वें स्थान पर काबिज हैं, लेकिन इस खिलाड़ी को पिछले सप्ताह के मुकाबले पांच स्थानों का नुकसान हुआ है. शीर्ष दो सौ में करमन भी शामिल हैं जो 189वें पायदान पर हैं.

ये भी पढ़ें- श्रीलंकाई बल्लेबाज ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में बनाया 'डबल डबल' का रिकॉर्ड

प्रजनेश ने पिछले सप्ताह करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग हासिल की थी, लेकिन पुरुषों की नवीनतम एटीपी रैंकिंग में वह एक पायदान खिसक कर 103वें स्थान पर आ गए हैं. ऑस्ट्रेलियाई ओपन के पहले दौर से बाहर होने वाले 29 साल के इस भारतीय के नाम 550 रेटिंग अंक हैं.

रामकुमार रामनाथन (133वां स्थान) इस रैंकिंग में प्रजनेश के बाद दूसरे शीर्ष भारतीय हैं. चोट के कारण कोर्ट से बाहर चल 26 साल के युकी भांबरी की फिर से नुकसान हुआ है और वह 151वें से 152वें स्थान पर खिसक गए हैं. शीर्ष 300 में साकेत मायनेनी (260) और युवा खिलाड़ी शशि कुमार मुकुंद (293) भी शामिल हैं.

ये भी पढ़ें- पाकिस्तान के इस बल्लेबाज ने सचिन के बैट से जड़ा था दुनिया का सबसे तेज शतक

एटीपी डबल्स रैंकिंग में रोहन बोपन्ना 2095 रेंटिंग अंक के साथ 37वें और दिविज शरण 40वें स्थान पर हैं. शीर्ष 100 रैंकिंग में जीवन नेंदुचेझियन (तीन स्थानों के नुकसान के साथ 79वीं रैंकिंग) और लिएंडर पेस (चार स्थान के नुकसान के साथ 82वां स्थान) भी शामिल हैं. डबल्स में इसके बाद पूरव राजा (103), श्रीराम बालाजी (107) और विष्णु वर्धन (136) का स्थान है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi