S M L

नहीं रहे कुश्ती कोच यशवीर सिंह, सुशील कुमार और योगेश्वर दत्त को सिखाई थीं बारीकियां

पिछले तीन दशकों से फ्री स्टाइल कुश्ती से जुड़े हुए थे छत्रसाल स्टेडियम के कोच यशवीर सिंह

Updated On: Sep 20, 2018 11:01 PM IST

FP Staff

0
नहीं रहे कुश्ती कोच यशवीर सिंह, सुशील कुमार और योगेश्वर दत्त को सिखाई थीं बारीकियां

ओलिंपिक रजत विजेता पहलवान सुशील कुमार और कांस्य पदक विजेता पहलवान योगेश्वर दत्त की कामयाबी में अहम भूमिका निभाने वाले राष्ट्रीय कुश्ती कोच यशवीर सिंह का निधन हो गया. प्रतिष्ठित द्रोणाचार्य पुरस्कार से सम्मानित यशवीर का देहांत गुरुवार को दिल्ली के अपोलो अस्पताल में हुआ.

पारिवारिक सूत्रों ने बताया कि पिछले तीन साल पहले से बीमार चल रहे थे. वह किडनी की बीमारी से जूझ रहे थे. यशवीर सिंह 57 वर्ष के थे.

यशवीर पिछले तीन दशकों से फ्री स्टाइल कुश्ती से जुड़े हुए थे. सुशील कुमार के करियर को बुलंदियों पर पहुंचाने में उनका अहम योगदान था. सुशील कुमार ने 2008 बीजिंग ओलिंपिक में कांस्य और 2012 लंदन ओलिंपिक में जो रजत पदक जीता था उसके पीछे यशवीर की मेहनत थी. उनकी कोचिंग में सुशील कुमार ने 2010 में विश्व चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक भी जीता था.

यशवीर सिंह को 2010 में फीला कोच आफ द ईयर अवार्ड के लिए चुना गया था. पहली बार किसी भारतीय कोच को फीला कोच आफ द ईयर चुना गया था. अपने शिष्य सुशील और योगेश्वर की तरह कोच यशवीर ने भी छत्रसाल स्टेडियम का नाम रोशन किया. यशवीर का ना रहना कुश्ती खेल की लिए बहुत बड़ी क्षति है जिसकी भरपाई कभी नही की जा सकती.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi