S M L

फिर अदालत पहुंचा खेल पुरस्कार का मामला, संजीता चानू ने लगाई अदालत से गुहार

खुद को अर्जुन अवॉर्ड ना दिए जाने से नाराज वेटलिफ्टर संजीता चानू ने दायर की दिल्ली हाइकोर्ट में अर्जी

Updated On: Aug 25, 2017 02:00 PM IST

FP Staff

0
फिर अदालत पहुंचा खेल पुरस्कार का मामला, संजीता चानू ने लगाई अदालत से गुहार

देश के खेल पुरस्कारों का मामला इस साल भी अदालत में पहुंच चुका है. वेटलिफ्टर संजीता चानू ने खुद को इस साल अर्जुन पुरस्कार ना दिए जाने के खिलाफ दिल्ली हाइकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. संजीता ने अपनी अपील में कोर्ट से गुजारिश की है कि इस मामले का फैसला आगामी 29 आगस्त से पहले ही किया जाए ताकि खेल दिवस के दिन उनको अर्जुन पुरस्कार मिल सके.

संजीता ने कोर्ट में दलील दी है कि दो साल लगातार बेहतरीन परफॉर्मेंस देने के बावजूद उनको अर्जुन पुरस्कार के लिए नहीं चुना गया है जबकि खेल मंत्रालय के मानकों के मुताबिक उनसे कमतर प्रदर्शन करने वाले एथलीट्स को इस पुरस्कार करे लिए नामित किया गया है.

यह कोई पहला मामला नहीं है जब किसी एथलीट ने सरकार के फैसले के खिलाफ अदालत का रुख किया हो. इससे पहले साल 2015 में मुक्केबाज मनोज कुमार को भी अदालत के दखल के बाद ही अर्जुन अवॉर्ड हासिल हुआ था.

आपको बता दें कि संजीता ने साल 2014 ग्लास्गो में खेल गए कॉमनवेल्थ खेलो में वेटलिफ्टिंग  48 केजी के इवेंट में गोल्ड मेडल हासिल किया था. वेटलिंफ्टिंग फेडरेशन ने ने उन्हें पिछली बार भी अर्जुन अवॉर्ड के लिए नामित किया था लेकिन उन्हें अब तक अर्जुन अवॉर्ड नहीं मिल सका है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi