S M L

कोच श्योर्ड मरीन्ये पर गिर सकती है कॉमनवेल्थ गेम्स में हॉकी टीम के फ्लॉप शो की गाज!

गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत की टीम चौथी पोजिशन पर रही, हॉकी इंडिया की मीटिंग में होगा फैसला

Updated On: Apr 25, 2018 11:00 AM IST

FP Staff

0
कोच श्योर्ड मरीन्ये पर गिर सकती है कॉमनवेल्थ गेम्स में हॉकी टीम के फ्लॉप शो की गाज!

भारतीय हॉकी टीम कोच को बदलने की कहानी में जल्द ही मौजूदा कोच श्योर्ड मरीन्ये का नाम भी शामिल हो सकता है. हाल ही में आयोजित हुए कॉमनवेल्थ खेलों में भारतीय हाकी टीम के फ्लॉप शो की गाज चीफ कोच मरीन्ये पर गिर सकती है जिनके प्रदर्शन की समीक्षा इस सप्ताह के आखिर में हाकी इंडिया की मीटिंग में की जाएगी.

टीम के कुछ सीनियर खिलाड़ियों ने मंगलवार को हॉकी इंडिया के आला अधिकारियों से मुलाकात करके प्रदर्शन के बारे में रिपोर्ट दी. इनमें कप्तान मनप्रीत सिंह, गोलकीपर पी आर श्रीजेश और ड्रैग फ्लिकर रूपिंदर पाल सिंह शामिल हैं.

 

India's hockey players look dejected on the pitch after losing to New Zealand in their men's field hockey semi-final match during the 2018 Gold Coast Commonwealth Games at the Gold Coast hockey centre on April 13, 2018. / AFP PHOTO / MANAN VATSYAYANA

हॉकी इंडिया के एक अधिकारी के मुताबिक सिर्फ खिलाड़ियों ही नहीं बल्कि कोच के प्रदर्शन की भी समीक्षा की जाएगी और सुधार के लिये कदम उठाए जाएंगे क्योंकि इस साल भारचीय टीम को चैम्पियंस ट्रॉफी, एशियाई खेल और वर्ल्ड कप में भाग लेना है ।

हॉकी इंडिया के एक अधिकारी ने कहा,‘ गोल्ड कोस्ट में किया गया प्रदर्शन स्वीकार्य नहीं है. हम टीम को सभी सुविधाएं दे रहे हैं लेकिन वे बड़े टूर्नामेंटों में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं. ’

उन्होंने कहा,‘ हम पदक के प्रबल दावेदार थे लेकिन वेल्स , पाकिस्तान, न्यूजीलैंड और इंग्लैंड जैसी निचली रैंकिंग वाली टीमों के खिलाफ भी अच्छा नहीं खेल सके. पाकिस्तान के खिलाफ आखिरी सात सेकंड में हमने गोल खाया.’

गोल्ड कोस्ट में कुछ सीनियर खिलाड़ी, युवा खिलाड़ियों विवेक सागर प्रसाद, दिलप्रीत सिंह, सुमित और गुरिंदर सिंह को सरदार सिंह और रमनदीप जैसे अनुभवी खिलाड़ियों की जगह शामिल किए जाने के पक्ष में नहीं थे.

अधिकारी ने कहा,‘ हाकी टीम का खेल है और प्रदर्शन के लिये कोच भी जवाबदेह है. अभी कुछ कहना जल्दबाजी होगी लेकिन मरीन्ये को खराब प्रदर्शन का जवाब देना होगा.’

हॉकी इंडिया पहले भी रोलंट ओल्टमंस, टैरी वॉल्श, माइकल नोब्स और रिक चार्ल्सवर्थ को नियुक्त करके खराब प्रदर्शन के बाद पद से हटा चुका है.  43 साल के मरीन्ये पहले भारतीय महिला टीम के कोच थे और करीब छह महीने पहले ही उन्हें रोलंट ओल्टमंस की जगह सीनियर मेन्स टीम को कोच बनाया गया था.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi