S M L

वर्ल्ड हॉकी लीग फाइनल : सरदार सिंह बाहर... क्या खत्म हो गया करियर!

1 दिसंबर से भुवनेश्वर में होने वाले टूर्नामेंट के लिए 18 सदस्यीय भारतीय टीम घोषित, रूपिंदरपाल सिंह की वापसी

Updated On: Nov 17, 2017 12:16 PM IST

Shailesh Chaturvedi Shailesh Chaturvedi

0
वर्ल्ड हॉकी लीग फाइनल : सरदार सिंह बाहर... क्या खत्म हो गया करियर!

पिछले कुछ समय से टीम के साथ प्रयोगों और कुछ खिलाड़ियों को आराम दिए जाने का दौर आखिर खत्म हुआ है. इसके साथ ही, दुनिया के महान खिलाड़ियों में शुमार किए जाने वाले पूर्व भारतीय कप्तान सरदार सिंह को लेकर भी बड़ा फैसला किया गया है. सरदार को भुवनेश्वर में होने वाले हॉकी वर्ल्ड लीग फाइनल के लिए 18 सदस्यीय टीम में जगह नहीं मिली है. इसके साथ अब यह कयास लगाए जा रहे हैं कि क्या इस बेहतरीन मिडफील्डर का करियर खत्म हो गया है?

भुवनेश्वर में होने वाले हॉकी वर्ल्ड लीग फाइनल के लिए 18 सदस्यीय टीम की घोषणा कर दी गई है. इसमें ड्रैग फ्लिकर रूपिंदरपाल सिंह की टीम में वापसी हुई है. लेकिन बड़ी खबर सरदार को जगह नहीं मिलना है. पिछले दिनों हुए एशिया कप में सरदार टीम का हिस्सा थे. टूर्नामेंट ढाका में हुआ था. वहां भी इस तरह की बातें की जा रही थीं कि क्या यह सरदार सिंह का आखिरी टूर्नामेंट है? सरदार को उस टूर्नामेंट में प्लेमेकर के रोल में नहीं खिलाया गया था, जहां वो लगातार खेलते रहे हैं.

सरदार ने करियर फॉरवर्ड के रूप में शुरू किया था. लेकिन  उसके बाद वो धीरे-धीरे मिड फील्डर के रोल में निभ गए. उन्हें यहां प्लेमेकर का रोल दिया गया. धनराज पिल्लै अपने करियर के आखिरी दौर में प्लेमेकर का रोल ही निभाते थे. लेकिन एशिया कप में यह जगह मनप्रीत को मिली. 31 साल के सरदार को एशिया कप के दौरान डिफेंस और मिडफील्ड के बीच फ्री मैन के रोल में खिलाया गया. लेकिन यहां भी उनकी रफ्तार को लेकर सवाल उठते रहे. सवाल यही है कि क्या सरदार वर्ल्ड कप के लिए वापसी कर पाएंगे? क्या टीम का थिंक टैंक अब भी उनके लिए कोई जगह मानता है? क्या टूर्नामेंट के बाद उनके रोल पर चर्चा की जाएगी? इन बहुत से सवालों के साथ वर्ल्ड लीग खेला जाएगा.

भारत को इस टूर्नामेंट के लिए ग्रुप बी में रखा गया है, जहां उसके साथ ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और जर्मनी की टीमें हैं. भारत को पहला मैच ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलना है. टूर्नामेंट के लिए भारतीय टीम की कमान 25 साल के मनप्रीत सिंह को सौंपी गई है. उप कप्तान चिंग्लेनसाना सिंह होंगे. चोटिल पीआर श्रीजेश की वापसी नहीं हुई है. इसलिए गोलकीपिंग की जिम्मेदारी आकाश चिकते और सूरज करकेरा के कंधों पर होगी.

Men team for WLF 2017

मिडफील्ड में एसके उथप्पा, कोथाजीत सिंह और सुमित का साथ मनप्रीत और चिंग्लेनसाना को मिलेगा. बैकलाइन अनुभवी ड्रैग फ्लिकर रूपिंदर पाल सिंह और ओडिशा के बिरेंद्र लाकड़ा के आने से मजबूत हुई है. हॉकी इंडिया की तरफ से जारी मीडिया रिलीज में टीम के चीफ कोच 43 साल के श्योर्ड मरीन्ये ने कहा, ‘रूपिंदर और बिरेंद्र के आने से टीम में अनुभव बढ़ेगा. दोनों सौ फीसदी फिट हैं.’

जूनियर वर्ल्ड कप के स्टार हरमनप्रीत सिंह, वरुण कुमार और डिप्सान टिर्की को भी टीम में जगह मिली है. अमित रोहिदास की भीवापसी हुई है. मरीन्ये ने कहा, ‘अमित को कोथाजीत के रिप्लेसमेंट के तौर पर बुलाया गया है. कोथाजीत की हैमस्ट्रिंग में चोट है.’ उन्होंने यह भी जोड़ा कि ड्रैग फ्लिक के लिए अब रूपिंदर, हरमनप्रीत, वरुण, अमित और डिप्सान के तौर पर विकल्प हैं. मरीन्ये ने कहा, ‘डिफेंस में ऐसे पांच लोग हैं, जो ड्रैग कर सकते हैं. यह टीम के लिए बहुत अच्छा है.’

फॉरवर्डनलाइन में एसवी सुनील के साथ आकाशदीप सिंह, गुरजंत सिंह, ललित उपाध्याय और मनदीप सिंह हैं.

टीम – गोलकीपर : आकाश चिकते, सूरज करकेरा, डिफेंडर : हरमनप्रीत सिंह, अमित रोहिदास, डिप्सान टिर्की, वरुण कुमार, रूपिंदरपाल सिंह, बिरेंद्र लाकड़ा, मिडफील्डर : मनप्रीत सिंह (कप्तान), चिंग्लेनसाना सिंह (उप कप्तान), एसके उथप्पा, सुमित, कोथाजीत सिंह, फॉरवर्ड : एसवी सुनील, आकाशदीप सिंह, मनदीप सिंह, ललित उपाध्याय, गुरजंत सिंह.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi