S M L

जहां से की थी ग्रैंड स्लैम जीत की शुरुआत वहीं करियर का अंत करना चाहते हैं फेडरर

फेडरर को लगता है कि जब भी वह रिटायरमेंट का फैसला करेंगे विंबलडन ही उनका आखिरी मैदान होगा

Updated On: Jan 12, 2019 09:26 AM IST

FP Staff

0
जहां से की थी ग्रैंड स्लैम जीत की शुरुआत वहीं करियर का अंत करना चाहते हैं फेडरर

रोजर फेडरर ने साल 2003 में विंबलडन के तौर पर अपना ग्रैंडस्लैम जीता था. तबसे अब तक वह रिकॉर्ड 20 ग्रैंड स्लैम जीत चुके हैं. हर खिलाड़ी के लिए उसका पहला ग्रैंड स्लैम खास होता है. यही वजह है कि फेडरर को लगता है कि जब भी वह रिटायरमेंट का फैसला करेंगे विंबलडन ही उनका आखिरी मैदान होगा. उन्होंने कहा ' बेशक मेरे लिए कई खास जगह हैं जहां मैंने बड़ी और अहम जीत हासिल की है लेकिन विंबलडन उन सबसे अलग है.'

ऑस्ट्रेलियन ओपन के मौजूदा विजेता फेडरर का कहना है कि वह चाते है कि जब भी मैदान छोड़े अपनी इंडरी के चलते ना छोड़े. हाल ही में एंडी मरे ने अपनी हिप इंजरी के चलते रिटायरमेंट का ऐलान किया था. फेडरर ने कहा 'मैं ऐसा नहीं चाहता कि में जब भी किसी ग्रैंड स्लैम की जीत के साथ करियर को अलविदा कहूं, मैं बस यह चहता हूं कि जब भी ऐसा हो मेरी इंजरी के चलते ना हो, मैं फिट रहते हुए करियर को अलविदा कहना चाहता हूं. लोगों के दिमाग जरूर एक तस्वीर है जहां वह मुझे टाइटल जीतते हुए रिटायरमेंट लेते हुए देखना चाहते हैं लेकिन मैं ऐसी उम्मीद पहले ही छोड़ चुका हूं. मैं चाहता हूं वो दिन खुशियों भरा हो मातम का नहीं.'

फेडरर ने हालांकि साफ किया है कि वह नहीं टोक्यो 2020 से पहले रिटायरमेंट नहीं लेंगे. वह अपने खाते में एक और ओलिंपिक गोल्ड चाहते हैं. साल 2008 में बीजिंग ओलिंपिक में पुरुष डबल्स में गोल्ड मेडल हासिल किया था.

(reuters एजेंसी से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi