S M L

कोच की मौत के 16 साल बाद भी उनका नाम आते ही रोने लगे फेडरर, देखें वीडियो

फेडरर ने बताया कि कार्टर की मौत के बाद उन्होंने और कड़ी मेहनत करना शुरू कर दिया था, वह पीटर की इच्छा पूरी करना चाहते थे

Updated On: Jan 08, 2019 12:21 PM IST

FP Staff

0
कोच की मौत के 16 साल बाद भी उनका नाम आते ही रोने लगे फेडरर, देखें वीडियो

रोजर फेडरर आज टेनिस जगत का सबसे बड़ा नाम है. 20 ग्रैंडस्लैम जीत चुके फेडरर टेमिस के इतिहास में वह सब हासिल कर चुके हैं जो एक कामयाब खिलाड़ी की पहचान होती है. ऑस्ट्रेलियन ओपन में फेडरर 21वां ग्रैंडस्लैम जीतने उतरेंगे. टूर्नामेंट से पहले सीएनएन से बात करते हुए फेडरर ने अपने सफर को याद किया हालांकि इस दौरान वह अपने कोच पीटर कार्टर को याद करते हुए भावुक हो गए और रोने लगे. फेडरर के कोच की एक कार एक्सीडेंट में साल 2002 में मृत्यु हो गई थी. इसके अगले साल ही फेडरर ने विंबलडन के तौर पर अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीता था. फेडरर को इस बात दुख है कि पीटर उन्हें ग्रैंड स्लैम जीतता हुआ नहीं देख सके.

फेडरर ने बताया कि कार्टर की मौत के बाद उन्होंने और कड़ी मेहनत करना शुरू कर दिया था. कार्टर नहीं चाहते थे कि फेडरर जैसी प्रतिभा कहीं खो जाए. उनकी मौत के बाद फेडरर ने यह ठान लिया था कि वह उनकी इच्छी पूरी करेंगे. फेडरर से सब पूछा गया कि अगर आपके कोच आज यहां होते तो उन्हें कैसा लगता, इसका जवाब देते हुए वह रोने लगे और उन्होंने कहा 'मुझे उम्मीद है कि वह जहां भी होंगे खुश होंगे. वो मेरी जिंदगी बहुत महत्तवपूर्ण इंसान थे. मैं आज अपने खेल के लिए उनको धन्यवाद करता हूं.

फेडरर ने बताया कि वह पहली बार कार्टर से बासेल के क्लब टेनिस के दौरान हुई थी. उस समय में वह बहुत छोटे थे और कार्टर टीम के स्टार खिलाड़ी थे. उन्होंने उस दौरान फेडरर को कोचिंग दी. वह अपने दोस्त डैरेन चर्चिल से अक्सर फेडरर के बारे में बात करते थे जो उस समय हेविट को ट्रेन कर रहे थे. डैरन वर्ल्ड नंबर वन सिमोना हालेप के भी कोच है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi