विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

टीचर्स डे पर सिंधु ने क्यों कहा 'आई हेट माय टीचर' !

सिंधु ने स्पोर्ट्स ड्रिंक बनाने वाली कंपनी के साथ मिलकर 'आई हेट माई टीचर' नाम की फिल्म का निर्माण किया है

FP Staff Updated On: Sep 05, 2017 10:48 AM IST

0
टीचर्स डे पर सिंधु ने क्यों कहा 'आई हेट माय टीचर' !

भारत में गुरु शिष्य परंपरा बहुत पुरानी है. भारतीय बैडमिंटन में भी ऐसा ही एक जोड़ी है जो इसे आगे लेकर जा रही है. बैडमिंटन में नई ऊंचाईयों पर पहुंचाने वाले गुरु गोपी और उनकी शिष्या पीवी सिंधू आजकल इस परंपरा को नया आयाम दे रहे हैं. 22 वर्षीय सिंधू ने पुलेला गोपीचंद की देखरेख में विश्व बैडमिंटन में बड़ी उपलब्धी हासिल की है. सिंधू ने साल 2016 में रियो ओलिंपिक में सिल्वर मेडल जीता इसके बाद हाल ही में आयोजित विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने से चूक गईं.

शिक्षक दिवस के अवसर पर अपने कोच पुलेला गोपीचंद का आभार जताने के लिए एक डिजिटल फिल्म के निर्माण के लिए भारतीय बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु निर्माता बन गई हैं. पांच सितंबर को हर साल शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है और इस क्रम में ओलंपिक की रजत पदक विजेता सिंधु ने स्पोर्ट्स ड्रिंक बनाने वाली कंपनी के साथ मिलकर 'आई हेट माई टीचर' नाम की फिल्म का निर्माण किया है.

सिंधु ने कहा कि शिक्षक दिवस के अवसर पर वह अपनी सफलता का सारा श्रेय अपने कोच को समर्पित करती हैं. उन्होंने कहा, 'आईए हमें आगे बढ़ाने के लिए हम अपने शिक्षक के हमें आगे बढ़ाने के लिए और हम पर विश्वास करने के लिए' इस फिल्म के निर्माण के पीछे का विचार प्रशिक्षकों, शिक्षकों, कोचों और उनके शिष्यों के बीच नफरत और प्रेम के रिश्ते को दर्शाना है. कोच ने मेरे लिए बहुत मेहनत की और उनके बड़े ख्वाब थे. इस टीचर डे पर मैंने अपनी कामयाबी को उन्हें डेडिकेट करने का फैसला लिया.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi