S M L

PBL 2018-19: बिना आरटीएम के लगी बोली ने बदल दी टीमों की तस्वीरें, नई जर्सी में दिखेंगे स्टार खिलाड़ी

कम से कम चार टीमों ने सिंधु-मारिन के लिए अधिकतम राशि 80 लाख रुपये की बोली लगाई, जिसके बाद फिर ड्रॉ से फैसला किया गया

Updated On: Oct 08, 2018 09:51 PM IST

Bhasha

0
PBL 2018-19: बिना आरटीएम के लगी बोली ने बदल दी टीमों की तस्वीरें, नई जर्सी में दिखेंगे स्टार खिलाड़ी

पीवी सिंधू, सायना नेहवाल और विश्व चैंपियन कैरोलिना मारिन के अलावा किदांबी श्रीकांत और एसएस प्रणॉय प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) के आगामी सत्र के लिए सोमवार को हुई खिलाड़ियों की बोली में सबसे ज्यादा 80 लाख रुपए में बिके.

पीबीएल के चौके सत्र का आगाज मुंबई में 22 दिसंबर से होगा जबकि टूर्नामेंट का फाइनल बेंगलुरू में 13 जनवरी को खेला जाएगा. इस बार बोली में राइट टू मैच (आरटीएम) कार्ड का विकल्प नहीं था ऐसे में फ्रेंचाइजी टीमों में आइकन खिलाड़ियों को जोड़ने की होड़ मची रही.

इंडोनेशिया के टॉमी सुगिआर्तो गैर आइकन खिलाड़ियों में सबसे महंगे बिके. डालमिया सीमेंट समूह की स्वामित्व वाली दिल्ली डैशर्स की टीम ने उनके लिए 70 लाख रुपए की बोली लगाई. विश्व रैंकिंग में 11वें स्थान पर काबिज इस खिलाड़ी का आधार मूल्य 40 लाख रुपए था.

Chirag Shetty and Satwiksairaj Rankireddy of India react after winning their men's doubles match during the badminton World Championships in Nanjing, Jiangsu province on July 31, 2018. / AFP PHOTO / Johannes EISELE

भारतीय खिलाड़ियों में उभरते हुए डबल्स खिलाड़ी 15 लाख रुपए के आधार कीमत वाले सात्विकसाइराज रंकीरेड्डी के लिए अहमदाबाद स्मैश मास्टर्स और हैदरबार हंटर के बीच बोली लगाने की होड़ दिखी जिन्हें अहमदाबाद की टीम ने 52 लाख रुपये में टीम के साथ जोड़ा.

मारिन और सिंधू लगभग सभी टीमों के लिए स्पष्ट पसंद थे. उनके लिए कम से कम चार टीमों ने अधिकतम राशि 80 लाख रुपये की बोली लगाई. इनके लिए फिर ड्रा के कराया गया जहां तीन बार की विश्व चैंपियन मारिन बॉलीवुड अदाकार तापसी पन्नू की सह-स्वामित्व वाले पुणे टीम के पाले में चली गई. मारिन ने पिछले साल हैदराबाद हंटर्स को खिताब दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी. पुणे की यह टीम टूर्नामेंट में हिस्सा लेने वाली नौवीं फ्रेंचाइजी है.

टूर्नामेंट की नयी फ्रेंचाइजी पुणे से जुड़ने पर स्पेन की इस खिलाड़ी ने कहा, ‘मैं पुणे टीम का हिस्सा बनकर खुश हूं. हैदराबाद मेरे लिए दूसरे घर की तरह था लेकिन अब मैं पुणे का प्रतिनिधित्व करने को लेकर उत्सुक हूं.'

तापसी ने कहा, ‘हमारी टीम में मारिन के अलावा अनुभवी माथियास बोई और युवा लक्ष्य सेन भी है. मैं टीम के संतुलन को लेकर खुश हूं.’

ड्रॉ में मारिन के हाथ से निकलने के बाद हैदराबाद हंटर्स के लिए अच्छी बात यह रही कि पीवी सिंधू अब उनकी टीम का प्रतिनिधित्व करेंगी. पिछले सत्र तक चेन्नई स्मैशर्स के लिए खेलने वाली रियो ओलिंपिक की सिल्वर मेडल विजेता खिलाड़ी पहली बार आपने गृह नगर के लिए खेलेंगी. सिंधू हालांकि चेन्नई की टीम का साथ छूटने से नाखुश दिखीं.

pannu with ashwini

राष्ट्रमंडल खेलों में दो बार स्वर्ण जीतने वाली सायना आगामी सत्र में नॉर्थ-ईस्टर्न वारियर्स के लिए खेलेंगी. अन्य आइकन खिलाड़ियों में, पूर्व विश्व चैंपियन विक्टर एक्सेलसन अहमदाबाद स्मैश मास्टर्स का प्रतिनिधित्व करेंगे, श्रीकांत बेंगलुरू रैप्टर के लिए खेलेंगे और एचएस प्रणॉय दिल्ली डैशर्स की ओर से चुनौती पेश करेंगे. कोरियाई खिलाड़ी सुंग जी ह्यून को आयकन खिलाड़ी के रूप में टीम से जोड़ने वाली चेन्नई स्मैशर्स ने मिक्स्ड डबल्स के लिए इंग्लैंड के क्रिस और गैबी एडकॉक की जोड़ी को टीम के साथ जोड़ने में सफल रहे. उन्होंने क्रिस के लिए 54 लाख जबकि गैबी के लिए 36 लाख रुपये खर्च करने पड़े.

कोरिया के डबल्स विशेषज्ञ इओम हाई भी महंगी बोली पाने वाले खिलाडियों में शामिल रहे जिनकी आधार कीमत सात लाख रुपए थी. इस खिलाड़ी के लिए हैदराबाद हंटर्स ने 37 लाख रुपए खर्च किए. दिल्ली डैशर्स ने सिंगल्स खिलाड़ियों की मजबूत टीम बनाने पर जोर दिया जो प्रणॉय के अलावा इंडोनेशिया के सुगिआर्तो को टीम से जोड़ने में सफल रहे.

अवध वॉरियर्स और मुंबई रॉकेट्स ने बोली के लिए रखी गई अधिकतम सीमा 2.6 करोड़ रुपए खर्च कर दिए तो वही पुणे सेवेन एसेज अच्छी टीम बनाने के बाद भी 14 लाख रुपए बचाने में सफल रही. नॉर्थ-ईस्टर्न वॉरियर्स ने आठ लाख रुपये बचाने में सफल रहा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi