S M L

टाटा स्टील ने पीजीटीआई के साथ किया तीन साल का करार

पीजीटीआई के 2019 के कैलेंडर के अनुसार देश भर में इसके 18-20 टूर्नामेंट शामिल हैं

Updated On: Feb 28, 2019 06:26 PM IST

FP Staff

0
टाटा स्टील ने पीजीटीआई के साथ किया तीन साल का करार

विश्व की अग्रणी इस्पात कंपनी टाटा स्टील ने गोल्फ को प्रोत्साहन देने के लिए बड़ा कदम उठाया है. टाटा स्टील ने प्रमुख स्पॉन्सर के तौर पर प्रोफेशनल गोल्फ टूर ऑफ इंडिया (पीजीटीआई) के साथ तीन साल का करार किया है. बुधवार को नई दिल्ली में पीजीटीआई के साथ आयोजित एक मीडिया कॉन्फ्रेंस में टाटा स्टील के उपाध्यक्ष संजीव पॉल ने कहा, ' एक-डेढ़ दशक पहले टाटा स्टील ने जमशेदपुर के गोलमुरी गोल्फ कोर्स में भारतीय खिलाड़ियों के लिए एक टूर्नामेंट का आयोजन किया था. उसी दौरान ये फैसला भी लिया गया था देश में प्रोफेशनल गोल्फ को बढ़ावा देने में हम अहम योगदान देंगे. उस वक्त टाटा स्टील पूरे टूर के लिए इसका प्रमुख पार्टनर बना था.'

संजीव पॉल ने कहा, 'भारतीय खेलों के प्रति टाटा स्टील की प्रतिबद्धता लंबे समय से चली आ रही है. फुटबॉल से लेकर तीरंदाजी और एथलेटिक्स से लेकर बॉक्सिंग, हॉकी से लेकर शतरंज तक हमने हमेशा आगे बढ़कर प्रतिभाशाली योग्यताओं को सहयोग किया है. भारतीय खिलाड़ियों में उच्च स्तर पर प्रतिस्पर्धा को प्रोत्साहित करने के हमारे लक्ष्य का ही नतीजा है पीजीटीआई के साथ हमारी यह साझेदारी.'

पीजीटीआई के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर उत्तम सिंह मुंडी ने कहा, ' हमें अपने मुख्य स्पॉन्सर के तौर पर टाटा स्टील का स्वागत करने में बेहद खुशी महसूस हो रही है. वह भारतीय खेलों के शुरुआती दौर के सबसे बड़े सहयोगकर्ता रहे हैं. मुख्य और फीडर टूर दोनों में ही पीजीटीआई के टाटा स्टील से भागेदारी का खिलाड़ियों को लाभ मिलेगा.'

पीजीटीआई के 2019 के कैलेंडर के अनुसार देश भर में इसके 18-20 टूर्नामेंट शामिल हैं. महज 12 साल के इसके सफर में 325 से ज्यादा खिलाड़ी इनामी राशि जीत चुके हैं. 38 खिलाड़ियों को एक करोड़ रुपए से ज्यादा की धनराशि प्राप्त हुई है. 52 खिलाड़ी ऐसे हैं जिन्होंने 220 में से कम से कम एक टूर्नामेंट अवश्य जीता है. महू के मुकेश कुमार इस चार्ट में टॉप पर हैं. वह अब तक 19 बार जीत हासिल कर चुके हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi