S M L

नए अंदाज में नजर आएगी इस बार प्रो कबड्डी लीग

28 जुलाई से शुरू होगी प्रो कबड्डी लीग

FP Staff Updated On: Jul 15, 2017 05:28 PM IST

0
नए अंदाज में नजर आएगी इस बार प्रो कबड्डी लीग

चार नई टीमें, 138 मुकाबले, 13 सप्ताह का इवेंट. प्रो कबड्डी लीग अब नए और बड़े अवतार में दिखाई देगा. स्टार स्पोर्ट्स प्रो कबड्डी लीग के पांचवें सीजन में चार नई टीमों को शामिल किया गया है. 2014  से शुरू हुई यह लीग चार सफल सीजन पूरे कर लेने के बाद अब चार नए क्षेत्रों में विस्तार के लिए तैयार है. चार नई टीमों को शामिल करने के बाद अब लीग में 11 राज्यों की टीमें होंगी.

इसके तहत इस साल जुलाई में होने वाले पांचवें सीजन में आठ के स्थान पर 12 टीमें एक-दूसरे के साथ प्रतिस्पर्धा करती नजर आएंगी. इसके साथ ही इसमें अब 13 सप्ताह के अंतराल में 130 मैच खेले जाएंगे. पहले की आठ टीमों के अलावा इसमें गुजरात, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश और हरियाणा की टीमें जोड़ी गई हैं.

तीन महीने चलने वाले इस टूर्नामेंट में 12 टीमें कुल 138 मैच खेलेंगी और टूर्नामेंट 12 शहरों में खेला जाएगा. टूर्नामेंट का पहला मैच तेलुगु टाइटंस और तमिलनाडु की नई टीम तमिल तलाइवा के बीच खेला जाएगा. प्लेऑफ मुंबई और चेन्नई में होंगे जबकि फाइनल की मेजबानी चेन्नई करेगा.

पिछले चार सीजन तक में आठ टीमें होम एंड अवे आधार पर खेलती थीं, लेकिन इस बार बदलाव करते हुए 12 टीमों को दो जोन में बांटा गया है, हर ग्रुप की टीम अपने ग्रुप की शेष पांच टीमों से तीन-तीन मैच खेलेगी और फिर दूसरे जोन की छह टीमों से एक-एक मैच भी खेलेगी.

इस नए कार्यक्रम के तहत इस प्रत्येक जोन के अंदर हर टीम कुल 15 मैच खेलेगी. इसके अलावा, दोनों जोन की टीमें एक-दूसरे के साथ एक-एक मैच खेलेंगी. इसके अलावा हर टीम को ड्रॉ के तहत एक मैच खेलना होगा. ऐसे में प्रतियोगिता में शामिल हर टीम को कुल 22 मैच खेलने हैं. हर ग्रुप की शीर्ष तीन-तीन टीमें क्वालिफायर के लिए क्वालीफाई करेंगी जिनमें तीन क्वालिफायर और दो एलिमिनेटर फाइनल में पहुंचने वाली दो टीमों का फैसला करेंगे.

प्रो कबड्डी 2014 में अपने पहले सीजन में ही भारतीय खेलप्रेमियों के बीच काफी सफल साबित हुई और 43.5 करोड़ लोगों ने इसे देखा. 4 सीजनों में दर्शकों की संख्या में 51 प्रतिशत की वृद्धि भारत में किसी भी लीग की तुलना में सबसे ज्यादा है.

इनामी राशि भी बढ़ाई गई

इस बार प्रो कबड्डी की इनामी राशि भी बढ़ा दी है. इस बार जीतने वाली टीम को एक करोड़ नहीं 3 करोड़ रूपए दिए जाएंगे.

इसके आलावा, रनरअप को 1.8 करोड़ दिए जाएंगे. तीसरे स्थान पर रहने वाली टीम को 1.2 करोड़ रुपए इनामी तौर पर मिलेंगे.

टूर्नामेंट में सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ी को 15 लाख रुपए दिए जाएंगे.

टीमें इस प्रकार हैं-

जोन-ए: दबंग दिल्ली, जयपुर पिंक पैंथर्स, पुणेरी पल्टन, यू मुम्बा, हरियाणा स्टीलर्स और गुजरात फॉर्चुन जाइंट्स.

जोन-बी: तेलुगु टाइटंस, बेंगलूरु बुल्स, पटना पाइरेट्स, बंगाल वारियर्स, यूपी योद्धा और तमिल तलाइवा

हफ्ते जगह मैच की तारीख
1 हैदराबाद 28 जुलाई से 3 अगस्त
2 बैंगलोर 4 अगस्त से 10 अगस्त
3 अहमदाबाद 11 अगस्त से 17 अगस्त
4 लखनऊ 18 अगस्त से 24 अगस्त
5 मुंबई 25 अगस्त से 31 अगस्त
6 कोलकाता 1 सितंबर से 7 सितंबर
7 हरियाणा 8 सितंबर से 14 सितंबर
8 रांची 15 सितंबर से 21 सितंबर
9 दिल्ली 22 सितंबर से 28 सितंबर
10 चेन्नई 29 सितंबर से 5 अक्टूबर
11 जयपुर 6 अक्टूबर से 12 अक्टूबर
12 पुणे 13 अक्टूबर से 20 अक्टूबर
प्लेऑफ  

 

मुंबई

चेन्नई

 

 

22 अक्टूबर से 23 अक्टूबर

26 अक्टूबर से 28 अक्टूबर

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi