S M L

23 दिसंबर को बजेगा पीबीएल-3 का बिगुल, एक-दूसरे से भिड़ने को तैयार स्टार शटलर्स  

पहले मैच में चेन्नई स्मैशर्स का सामना अवध वॉरियर्स से होगा

FP Staff Updated On: Dec 21, 2017 06:20 PM IST

0
23 दिसंबर को बजेगा पीबीएल-3 का बिगुल, एक-दूसरे से भिड़ने को तैयार स्टार शटलर्स  

प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) के तीसरे संस्करण का आगाज शनिवार से हो रहा है. इस प्रतिष्ठित लीग में दुनिया भर के बैडमिंटन के दिग्गज खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं. लीग के पहले मैच में चेन्नई स्मैशर्स का सामना सायना नेहवाल की अवध वॉरियर्स से होगा.

इस साल विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक अपने नाम करने वाली सायना को भी उम्मीद है कि उनकी टीम अच्छी शुरुआत करेगी. उन्होंने कहा, 'हमने अभी तक सभी संस्करणों के नॉकआउट दौर में जगह बनाई है. इसलिए हमारे लिए ट्रॉफी न जीत पाना दुर्भाग्य की बात नहीं है. हम अपने मौके भुनाने को लेकर तैयार हैं और ट्रॉफी जीतने के लिए सब कुछ करेंगे.'

इस संस्करण में टीमों की संख्या आठ हो गई है. दो फ्रेंचाइजी और शामिल हुई हैं. यह टूर्नामेंट 23 दिनों तक चलेगा जिसमें नौ ओलंपिक पदकधारी खिलाड़ी हिस्सा लेंगे. इस लीग की ईनामी राशि छह करोड़ रुपए है. इसने पहले से ही सबसे ज्यादा ईनामी राशि वाली बैडिमंटन लीग में अपना नाम शामिल कर लिया है. साथ ही सभी शीर्ष खिलाड़ियों को अपनी तरफ आकर्षित किया है.

पिछले संस्करण में सबसे सफल पुरुष सिंगल्स खिलाड़ी एचएस प्रणॉय इस बार नई टीम अहमदाबाद स्मैश मास्टर्स के लिए खेलते नजर आएंगे. उन्होंने कहा, हम नई टीम हैं और अच्छा कर रहे हैं. हमारी टीम से सभी को सावधान रहना होगा. मेरा विश्वास मानिए, जब मैं ऐसा कह रहा हूं तो वाकई हमारी टीम को हराना मुश्किल होगा.

इस संस्करण में नार्थ ईस्टर्न वॉरियर्स दूसरी नई टीम है. इस टीम में भारत के अजय जयराम और चीनी ताइपे के जु वेई वांग हैं. अजय ने कहा, 'जब आप हमारी टीम को देखेंगे तो पता चलेगा की हमारी टीम काफी संतुलित है. हमारे पास हर वर्ग के लिए सभी अच्छे खिलाड़ी हैं. हमें अपने ऊपर भरोसा है कि हम लीग जीत सकते हैं.'

स्पेन की कैरोलिना मारिन हैदराबाद हंटर्स की उम्मीदों के साथ बेहतर करने के इरादे से उतरेंगी. पिछले सीजन में उनकी टीम सेमीफाइनल से ही बाहर हो गई थी. पूर्व नंबर-1 खिलाड़ी ने कहा, हम पिछले सीजन काफी करीब आ गए थे और खिताब न जीत पाना वाकाई दुखद था. लेकिन हम अपनी पूरी तैयारी से इस संस्करण में उतरेंगे.

पिछले साल फाइनल में जगह बनाने वाली मुंबई रॉकेट्स की कमान दक्षिण अफ्रीका के सान वान हो के हाथों में होगी. उन्होंने कहा, हम पिछले सीजन में फाइनल में पहुंचे थे. हालांकि हमारी यह टीम नई है और हमें जीत की पूरी उम्मीद है. निजी प्रदर्शन की बात की जाए तो पिछले सीजन में मैंने भी अच्छा प्रदर्शन नहीं किया था. मैं इस बार सुधार करना चाहूंगा."

इस संस्करण में चीन के इकलौते खिलाड़ी तियान हाउवेई दिल्ली डैशर्स के लिए खेलते नजर आएंगे. उनका मानना है कि उनकी टीम में जीतने की काबिलियत है. उन्होंने कहा, मैं इस लीग में नया हूं, लेकिन दूसरी टीमों को देखने के बाद मैं कह सकता हूं कि हम किसी भी टीम से कम नहीं हैं, हमारे पास जीतने की सभी काबिलियत है.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi