S M L

PBL 2019 : मारिन और लक्ष्य ने पुणे 7 एसेस को सेमीफाइनल की दौड़ में बनाए रखा

पुणे 7 एसेस ने दिल्ली डैशर्स को 5-0 से मात दी, लक्ष्य ने अपने बड़े भाई चिराग सेन को हराया

Updated On: Jan 06, 2019 10:22 PM IST

FP Staff

0
PBL 2019 : मारिन और लक्ष्य ने पुणे 7 एसेस को सेमीफाइनल की दौड़ में बनाए रखा

ओलिंपिक स्वर्ण पदक विजेता कैरोलिना मारिन और एशियाई जूनियर चैंपियन लक्ष्य सेन ने अपने-अपने मुकाबले जीतते हुए पुणे 7 एसेस को प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) के चौथे सीजन के सेमीफाइनल की दौड़ में बनाए रखा है. इन दोनों के शानदार खेल की बदौलत पुणे ने संघर्ष कर रही दिल्ली डैशर्स टीम को रविवार को 5-0 से हरा दिया.

2012 ओलिंपिक रजत पदक विजेता मथायस बोए ने भी जीत के साथ वापसी की और चिराग शेट्टी के साथ अपनी टीम को पुरुष डबल्स मैच में जीत दिलाई. इस जीत के साथ पुणे की टीम 17 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर पहुंच गई है. इस टीम ने छह मैच खेले हैं और पांच ट्रंप मैच जीते हैं. हालांकि चौथे स्थान पर काबिज अवध वॉरियर्स और पांचवें स्थान पर चल रही बेंगलुरु रैप्टर्स टीम ने पुणे की तुलना में दो मैच कम खेले हैं. ऐसे में पुणे की किस्मत वॉरियर्स और रैप्टर्स के बीच होने वाले मैच के परिणाम पर भी निर्भर होगा.

वल्र्ड नंबर-32 एवगेनिया कोसेत्काया पुणे की कप्तान और आइकन खिलाड़ी मारिन को किसी भी लिहाज से चुनौती नहीं दे सकीं. बीते साल मारिन ने यूरोपीयन चैंपियनशिप के फाइनल में इस रूसी खिलाड़ी को हराया था और अब एक बार फिर वह रूसी खिलाड़ी पर हावी रहीं मारिन ने यह मैच सिर्फ 20 मिनट में 15-5, 15-6 से जीता. मारिन इससे पहले चेन्नई स्मैशर्स की सुंग जी ह्यून के हाथों हार गईं थीं और इसी कारण उन्हें कई चीजें साबित करनी थीं.

ये भी पढ़ें- PBL 2019: समीर वर्मा के अजेय अभियान से सेमीफाइनल में पहुंची मुंबई रॉकेट्स

मौजूदा जूनियर एशियन चैंपियन लक्ष्य सेन ने अपने बड़े भाई चिराग सेन को 15-12, 15-11 से हराया. 17 साल के लक्ष्य ने एक समय पहले गेम में 8-6 की बढ़त हासिल कर ली थी, लेकिन कुछ गलतियों के कारण वह बढ़त गंवा बैठे. बड़े भाई ने लक्ष्य से 12-12 की बराबरी कर ली, लेकिन इसके बाद लक्ष्य ने अपने भाई को कोई मौका नहीं दिया और तीन अंक लेते हुए गेम अपने नाम किया.

दूसरे गेम में चिराग ने 5-4 की बढ़त ले ली थी, लेकिन पूरे संयम के साथ खेल रहे लक्ष्य ने उनसे बढ़त छीनी और फिर 12-9 की लीड ले ली. बढ़त लेने के साथ ही लक्ष्य ने एक बार फिर पीछे मुड़कर नहीं देखा और दूसरे गेम को अपने नाम करने के साथ अपने बड़े भाई पर यादगार जीत दर्ज की. पुणे ने पुरुष डबल्स में मथायस बोए और चिराग शेट्टी को कोर्ट पर उतारा. दिल्ली के मानीपोंग जोंगजीत और चाए बाओ के खिलाफ इनके लिए जीत दर्ज कर पाना आसान नहीं था, लेकिन बोए और चिराग ने 9-15, 15-10, 15-13 से मैच अपने नाम कर अपनी टीम को बहुमूल्य अंक दिलाए. यह दिल्ली का ट्रंप मैच था.

ये भी पढ़ें- India vs Thailand, AFC Asian Cup 2019 : 1964 के बाद भारत की पहली जीत, थाईलैंड को 4-1 से दी मात

इससे पहले, दिन की शुरुआत में ब्लादिमीर इवानोव और लिने काएर्सफेल्ड की जोड़ी ने पुणे को आगे ले जाने की जिम्मेदारी अपने कंधों पर लेते हुए दिल्ली के जोंगजीत और एवगेनिया के खिलाफ 15-9, 14-15, 15-8 से जीत हासिल करते हुए अपनी टीम को दो अंक दिलाए. इस जोड़ी ने पुणे के लिए ट्रंप मैच जीता. दिल्ली को दिन की एकमात्र जीत पुरुष सिंगल्स मैच में मिली, जब विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीत चुके टॉमी सुगियार्तो ने पुणे के ब्राइस लेवेरदेज को 15-7, 15-14 से हराया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi