S M L

उमर अकमल के आरोप के बाद, पीसीबी ने भेजा कारण बताओ नोटिस

उमर अकमल के पास इसका जवाब देने के लिए सात दिनों का समय है

Updated On: Aug 18, 2017 10:23 AM IST

IANS

0
उमर अकमल के आरोप के बाद,  पीसीबी ने भेजा कारण बताओ नोटिस

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने गुरुवार को उमर अकमल को टीम के मुख्य कोच मिकी आर्थर के साथ किए गए दुर्व्यवहार के लिए कारण बताओ नोटिस भेजा है.  मध्य क्रम के बल्लेबाज अकमल ने मुख्य चयनकर्ता इंजमाम-उल-हक और अन्य वरिष्ठ खिलाड़ियों के सामने अर्थर को अपशब्द कहे थे.

पाकिस्तान बोर्ड ने अकमल को इस मामले पर जवाब देने के लिए सात दिन का समय दिया है.

पीसीबी ने ट्विटर पर लिखा, 'बोर्ड ने आचार संहिता के उल्लंघन के लिए अकमल को कारण बताओ नोटिस भेजा है. मध्यक्रम के बल्लेबाज के पास इसकी प्रतिक्रिया देने के लिए केवल सात दिनों का समय है.'

अकमल राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में मिल रही सुविधाओं के उपयोग करना चाहते थे और इस संदर्भ में उन्होंने बुधवार को आर्थर को अपशब्द कहे.

अकमल के इस व्यवहार पर आर्थर ने कहा कि उन्होंने खिलाड़ी को राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी की सुविधाओं के इस्तेमाल से कभी नहीं रोका, लेकिन उन्होंने अकमल को कोचिंग स्टॉफ की सेवाओं के इस्तेमाल से रोका था, क्योंकि वह अब अनुबंधित खिलाड़ी नहीं हैं.

'जियो टीवी' की रिपोर्ट के अनुसार, आर्थर ने कहा, 'अकमल बल्लेबाजी के लिए ग्रैंट फ्लावर की सेवा का इस्तेमाल करना चाहते थे. मैंने उन्हें कहा कि उन्हें इसके लिए पहले खेलने के अधिकार को हासिल करना होगा और क्लब क्रिकेट में खेलना होगा, क्योंकि वह अभी पीसीबी के करार में शामिल नहीं हैं.'

आर्थर ने कहा, 'मैंने उन्हें कभी भी अकादमी की सुविधाओं को इस्तेमाल करने से नहीं रोका. मैंने उन्हें कहा कि वह समर्थक स्टॉफ की सेवाओं का इस्तेमाल न करें, जब तक वह इसके काबिल नहीं हो जाते. उन्हें स्वयं को इस काबिल साबित करने की जरूरत है.'

अकमल को इस साल दो माह तक लगातार दो बार हुए टेस्ट में फेल होने के बाद मई में हुई चैंपियंस ट्रॉफी के लिए पाकिस्तान की टीम में शामिल नहीं किया गया था.

ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि अकमल का नाम किसी विवाद में शामिल हुआ है. उन्हें अपनी कार पर फैंसी नंबर का गैरकानूनी तौर पर इस्तेमाल करने और ड्राइविंग के लिए नियमित तेजी की सीमा को तोड़ने के लिए एक पार्टी के दौरान हिरासत में ले लिया गया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi