S M L

महिला तैराकों की वीडियो बनाने पर निलंबित हुए पैरा तैराक प्रशांत कर्माकर

जयपुर में पिछले साल आयोजित की गई नेशनल पैरा स्वीमिंग चैंपियनशिप में हुआ था ये वाकया

Updated On: Mar 01, 2018 08:00 PM IST

FP Staff

0
महिला तैराकों की वीडियो बनाने पर निलंबित हुए पैरा तैराक प्रशांत कर्माकर

पैरा तैराक प्रशांत कर्माकर को भारतीय पैरालंपिक समिति (पीसीआई) ने तीन साल के लिए निलंबित कर दिया है. उन्हें पिछले साल जयपुर में हुई नेशनल पैरा स्वीमिंग चैंपियनशिप में महिला तैराकों की वीडियो बनाने का दोषी पाया गया था. ये चैंपियनशिप जयपुर में 31 मार्च से तीन अप्रैल तक आयोजित की गई थी.

डेक्कन क्रॉनिकल में छपी खबर के अनुसार पीसीआई ने बताया कि प्रशांत कर्माकर के खिलाफ ये कार्रवार्ई लिखित शिकायत के बाद की गई है. इस अर्जुन पुरस्कार विजेता तैराक को आचार संहिता के उल्लंघन का दोषी पाया गया है. पीसीआई ने बताया कि उन्होंने अपने एक साथी को कैमरा देकर चैंपियनशिप के दौरान महिला तैराकों की वीडियो फिल्म बनाने को कहा था. महिला तैराकों के परिजनों ने भी इस पर आपत्ति जताई थी. जब पैरा स्वीमिंग के अध्यक्ष डॉ. वीके डबास ने वीडियो फिल्म बना रहे व्यक्ति से पूछताछ की तो उसने कहा कि कैमरा उसे कर्माकर ने दिया था.

पुलिस हिरासत में भी रहे

पीसीआई ने अपनी विज्ञप्ति में बताया कि उस व्यक्ति को तो रोक दिया गया, लेकिन फिर यही शिकायत मिली. लेकिन इस बार प्रशांत कर्माकर खुद ट्रॉयपाड पर कैमरा रखकर महिला तैराकों के परिजनों की आपत्ति के बावजूद वीडियो बना रहे थे. जब प्रशांत कर्माकर से वीडियो नष्ट करने को कहा गया तो उन्होंने ना केवल ऐसा करने से मना कर दिया, बल्कि ये भी कहा कि आखिर उनके आदमी को वीडियो फिल्म बनाने से रोका क्यो गया. उन्होंने वीडियो नष्ट करने से भी इनकार कर दिया था. पीसीआई ने इसके बाद पुलिस बुला ली जिसने उन्हें हिरासत में ले लिया. प्रशांत कर्माकर के वीडियो और फोटो नष्ट करने के लिए सहमत होने के बाद उन्हें छोड़ा गया.

दर्जन से अधिक पदक जीते हैं प्रशांत ने 

प्रशांत ने एक तैराक के तौर पर अपने करियर के दौरान कई अंतरराष्ट्रीय स्पर्धाओं में दर्जन से अधिक पदक जीते हैं. उन्होंने 2003 में हुई विश्व तैराकी चैंपियनशिप में पदक जीता था. वह इस उपलब्धि को हासिल करने वाले पहले पैरा-एथलीट बन गए. कर्माकर को 2015 में मेजर ध्यान चंद अवार्ड और 2014 में भीम अवार्ड से सम्मानित किया जा चुका है. 2009 और 2011 में वह स्वीमर ऑफ द ईयर पुरस्कार भी हासिल कर चुके हैं. प्रशांत 2016 में रियो पैरालंपिक में गई भारतीय तैराकी टीम के कोच भी रह चुके हैं.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi