S M L

डोपिंग: वेटलिफ्टर संजीता चानू को नहीं मिलेगी राहत!

आईडब्ल्यूएफ ने माना कि उनके केस में प्रशासनिक गलती तो हुई है लेकिन इसका फैसला सुनवाई पैनल में ही हो सकेगा

Updated On: Jul 27, 2018 10:09 AM IST

FP Staff

0
डोपिंग: वेटलिफ्टर संजीता चानू को नहीं मिलेगी राहत!

कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीतने और फिर डोपिंग में फंसने के बाद सुर्खियों में आने वाली भारत  महिला वेटलिफ्टर संजीता चानू को कोई राहत मिलती नहीं दिख रही है.

इंटरनेशनल वेटलिफ्टिंग फेडरेशन यानी आईडब्ल्यूएफ ने संजीता चानू के विफल डोप परीक्षण में अलग नमूना संख्या देने की बात स्वीकार किया है जिसके बाद संजीता ने जांच की मांग की है.

आईडब्ल्यूएफ ने इस साल डोप परीक्षण में विफल रहने की जानकारी देने वाले संवाद में नमूनों को दो अलग अलग नंबर देने की बात स्वीकार की है. आईडब्ल्यूएफ ने नेशनल एंटी डोपिंग एजेंसी (नाडा) को भेजे पत्र में यह बात स्वीकार की है.

आईडब्ल्यूएफ ने अपनी गलती उस समय स्वीकार की जब यह मुद्दा प्रधानमंत्री कार्यालय तक पहुंचा. पीएमओ ने खेल मंत्रालय को इस मुद्दे को देखने को कहा जिसने यह जिम्मेदारी नाडा को सौंपी गई.

आईडब्ल्यूएफ के गलती स्वीकार करने का हालांकि शायद असल मामले में कोई असर नहीं पड़े क्योंकि नाडा ने खेल मंत्रालय को अपने जवाब में कहा है कि संजीता को डोपिंग रोधी नियम के उल्लंघन के संदर्भ में  आई डब्ल्यूएफ के सुनवाई पैनल के समक्ष अपना पक्ष रखने की जरूरत है जहां उन्हें कोई राहत मिल भी सकती है और नहीं भी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi