S M L

नहीं होगा हॉकी इंडिया लीग का अगला सीजन?

खबरों के मुताबिक कई टीमें लीग से हटना चाहती हैं

FP Staff Updated On: Jul 03, 2017 11:29 PM IST

0
नहीं होगा हॉकी इंडिया लीग का अगला सीजन?

क्या अगले साल हॉकी इंडिया लीग नहीं होगी? सुगबुगाहट इसी तरह की है. अगर सुगबुगाहट सही है, तो 2018 में विश्व की सबसे बड़ी हॉकी लीग नहीं खेली जाएगी. कहा यही जा रहा है कि लीग में शामिल कुछ फ्रेंचाइजी खुश नहीं हैं. वे हटना चाहती हैं. इसी वजह से लीग न कराने का फैसला किया गया है.

ब्लॉग नॉट द फुटी शो में हॉकी कमेंटेटर एश्ली मॉरिसन के मुताबिक हॉकी इंडिया ने इंटरनेशनल हॉकी फेडरेशनल (एफआईएच) को लिख दिया है कि लीग अगले साल नहीं होगी.

हॉकी इंडिया लीग पिछले कुछ समय से संकट में दिख रही थी. खासतौर पर दिल्ली वेवराइडर्स के मालिक पोंटी चड्ढा की हत्या और सहारा इंडिया परिवार के संकट में घिरने के बाद. सहारा इंडिया परिवार आधिकारिक तौर पर यूपी विजर्ड्स की मालिक है. लेकिन हर कोई जानता है कि महेंद्र सिंह धोनी के नाम पर खरीदी गई रांची रेज भी सहारा इंडिया परिवार की टीम जैसी ही है.

इन तीन टीमों के अलावा जेपी ग्रुप भी पिछले कुछ समय से आर्थिक संकट से गुजर रहा है. जेपी पंजाब वॉरियर्स टीम उसने ही खरीदी थी. 2018 के लिए लीग में सात टीमें होनी थीं. सातवीं टीम बेंगलुरु की होनी थी, जिसे जेएसडबल्यू ने लेने का फैसला किया था.

माना यह जा रहा है कि दिल्ली वेवराइडर्स की लीग में रुचि नहीं रही है. वे 2017 के सीजन में भी नाखुश थे. टीम के साथ जुड़े जॉन अब्राहम 2017 के सीजन में एक बार भी टीम के मुकाबले के दौरान नहीं आए थे. वेवराइडर्स के मालिक पोंटी चड्ढा के पुत्र मोंटी चड्ढा भी इस सीजन में नहीं दिखे थे.

सहारा इंडिया परिवार के बारे में कहा जा रहा है कि वे एक ही टीम रखना चाहते हैं. संकट के इस दौर में वे दो टीमों का खर्च नहीं उठाना चाहते. कुल मिलाकर 2017 के सीजन में खेली महज दो टीमें ही ऐसी हैं, जो 2018 में खेलने को बगैर किसी ना-नुकुर के तैयार हैं. एक दबंग मुंबई और दूसरी कलिंगा लांसर्स. इनमें भी कलिंगा लांसर्स को कोई परेशानी नहीं होनी है, क्योंकि ये टीम कई सरकारी कंपनियों ने मिलकर खरीदी है.

अगर 2018 में लीग नहीं होती है, तो यह भारतीय हॉकी के लिए बहुत बुरी खबर होगी. लीग ने भारतीय हॉकी को दुनिया में वापस लाने में मदद की है. हालांकि अभी तक हॉकी इंडिया इस पूरे मामले पर खामोश है. हॉकी इंडिया ने टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi