In association with
S M L

भारत के लक्ष्य बने दुनिया के नंबर वन जूनियर बैडमिंटन खिलाड़ी

लक्ष्य सेन ने पिछले साल जूनियर एशियन चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता

FP Staff Updated On: Feb 03, 2017 01:37 PM IST

0
भारत के लक्ष्य बने दुनिया के नंबर वन जूनियर बैडमिंटन खिलाड़ी

उत्तराखंड के 15 वर्षीय लक्ष्य सेन ने बीडब्ल्यूएफ विश्व जूनियर बैडमिंटन रैंकिंग में पहला स्थान हासिल करके बड़ी कामयाबी हासिल की है.

लक्ष्य सेन ने पिछले साल जूनियर एशियन चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतने के साथ-साथ अरुणाचल प्रदेश में हुए ऑल इंडिया सीनियर रैंकिंग टूर्नामेंट का खिताब भी जीता था. वो विश्व बैडमिंटन की जूनियर रैंकिंग में शीर्ष स्थान पर पहुंचने से बस एक पायदान पीछे थे.

जब लक्ष्य 11 साल के थे तब से ओलिंपिक गोल्ड क्वेस्ट (ओजीक्यू) उनकी सहायता कर रहा था. इस सहायता में खास उनके लिए फीजियो और ट्रेनर उपलब्ध कराया गया था. उत्तराखंड के अल्मोड़ा से आने वाले लक्ष्य सेन 10 साल की उम्र से बेंगलुरु में बैडमिंटन चैंपियन प्रकाश पादुकोण की अकादमी में बैडमिंटन खेलना सीख रहे हैं.

पीवी सिंधु छठे और सायना नौवें नंबर पर

उधर सीनियर खिलाड़ियों की विश्व रैंकिंग में महिला सिंगल्स की रैंकिंग में ओलिंपिक रजत पदक विजेता पीवी सिंधु एक बार फिर छठे स्थान पर आ गई हैं. जबकि हाल में मलेशिया मास्टर्स का खिताब जीतने वाली सायना नेहवाल नौवें पायदान पर मौजूद हैं.

पुरुषों की सिंगल्स रैंकिंग में सैयद मोदी बैडमिंटन चैंपियनशिप जीतने वाले भारतीय शटलर समीर वर्मा 10 पायदान की छलांग लगाकर 25वें स्थान पर पहुंच गए हैं. जबकि किदांबी श्रीकांत को रैंकिंग में नुकसान हुआ और वो शीर्ष-20 से बाहर हो गए हैं.

पुरुषों की रैंकिंग में भारत की तरफ से सबसे ऊपर अजय जयराम 18वें पायदान पर कब्जा जमाए हुए हैं जबकि एचएस प्रणय 24वें पायदान पर हैं।

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
गणतंंत्र दिवस पर बेटियां दिखाएंगी कमाल!

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi