S M L

डेविस कप की टीम से पेस का पत्ता कटा, क्या अब देश के लिए कभी नहीं खेल पाएंगे लिएंडर पेस?

कनाडा के खिलाफ अगले महीने होने वाले मुकाबलों के लिए लिएंडर पेस को नहीं मिली तवज्जो, कप्तान भूपति की योजना में फिट नहीं बैठ रहे हैं पेस

Sumit Kumar Dubey Sumit Kumar Dubey Updated On: Aug 09, 2017 05:10 PM IST

0
डेविस कप की टीम से पेस का पत्ता कटा, क्या अब देश के लिए कभी नहीं खेल पाएंगे लिएंडर पेस?

टेनिस के कोर्ट में देश के लिए डेविस कप में कई शानदार मुकाबले जीतने वाले लिएंडर पेस का वक्त अब खत्म हो चला है. भारतीय टेनिस संघ की योजनाओं में अब लिएंडर के लिए जगह नहीं बची है. टेनिस संघ की इस सोच का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि अगले महींने  कनाडा के खिलाफ होने वाले डेविस कप मुकाबलों के लिए लिएंडर से उनकी उपलब्धता के बारे में पूछा तक नहीं गया है.

भारत को अगले महीने 15 से 17 सितंबर तक कनाडा के खिलाफ वर्ल्ड ग्रुप के प्ले ऑफ मुकाबले खेलने हैं. जिसके लिए त्रिचूर में चार सदस्यीय टीम का चयन किया जाना है. इस सलेक्शन के लिए छह खिलाड़ियों से उनकी उपलब्धता के के बारे में पूछा गया है. इन छह खिलाड़ियों में पेस का नाम शामिल नहीं है. जाहिर है कि पेस अब टेनिस संघ की भिष्य की योजना का हिस्सा नहीं रहे हैं.

जानकारी के मुताबिक इस सलेक्श के लिए यूकी भांभरी, राजकुमार प्रजनेश, श्रीराम बालाजी ,साकेत मिनेनी और रोहन बोपन्ना से उनकी फिटनेस और उपलब्धता के बारे में पूछा गया है. टेनिस संघ के सूत्रों के मुताबिक टीम के गैर खिलाड़ी कप्तान महेश भूपति चार सदस्यीय टीम में सिंगल्स के तीन खिलाड़ियों और डबल्स के एक खिलाड़ी के साथ उतरना चाहते हैं. और मौजूदा रैंकिंग के मुताबिक रोहन बोपन्ना उनकी पहली पसंद हैं लिहाजा 44 साल के लिएंडर पेस के टीम में चुने जाने की संभावना नहीं है इसीलिए उनकी उपलब्धता के बारे में जानकारी नहीं ली गई हैं.

आपको बता दें कि इसी साल अप्रेल में उज्बेकिस्तान के खिलाफ डेविस कप मुकाबले में पेस को छह सदस्यीय टीम में चुने जाने के बाद उन्हें आखिरी वक्त में अंतिम चार सदस्यों में सामिल नहीं किया गया था. जिसके बाद काफी विवाद भी हुआ था. और पेस ने इसके लिए महेश भूपति को जिम्मेदार ठहराया था.

हाल ही में जारी हुई डबल्स की रैंकिंग के मुताबिक रोहन बोपन्ना 21 वें नंबर पर हैं जबकि पेस 62 वीं रैंकिंग के खिलाड़ी हैं. ऐसे में अब अंदाजा लगाया जा सकता है कि आने वाले वक्त में भी पेस के लिए अब भारत की टीम में आना  कितना मुश्किल है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
International Yoga Day 2018 पर सुनिए Natasha Noel की कविता, I Breathe

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi