विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

रूस पर भारी पड़ी डोपिंग, विंटर ओलिंपक से हुआ निलंबित

इंटरनेशनल ओलिंपिक काउंसिल के झंडे तले खेल सकते है रूसी एथलीट, अगले साल 9 फरवरी से साउथ कोरिया के प्योंगयांग शहर में शुरू होगे विंटर ओलिंपिक

FP Staff Updated On: Dec 06, 2017 05:10 PM IST

0
रूस पर भारी पड़ी डोपिंग, विंटर ओलिंपक से हुआ निलंबित

डोपिंग को लेकर रूस की मुश्किलें थमती नहीं दिख रही हैं. इंटरनेशनल ओलिंपिक काउंसिल यानी आईओसी ने अब अगले साल साउथ कोरिया के शहर प्योगयांग में होन वाले विंटर ओलिंपक में भागीदारी करने पर रोक लग दी है. हालांकि रुस के एथलीट आईओसी के झंडे तले हिस्सेदारी कर सकेंगे.

हालंकि इस बात की उम्मीद कम ही है कि रूसे के एथलीट बिना अपने देश के झंडे के इन खेलों में बागीदारी करें क्योंकि रूस के राष्ट्रपति यह पहले ही साफ कर चुके हैं कि बिना झंडे के खेलना अपमान की बात है.

 

 

इसस पिछली बार विंटर ओलिंपिक को आयोजन रूस के ही शहर सोच्ची में हुआ था जहां मेजबान देश के एथलीट्स के डोपिंग के काफी मामले सामने आए थे जिसके बाद ही आईओसी ने यह फैसला लिया है.

आईओसी जांच में यह पाया गया कि रूसी सरकार की मिलीभगत के साथ सोच्ची विंटर गेम्स में रुसी एथलीट्स ने शक्तिवर्धक ड्रग्स का इस्तेमाल किया. हालांकि रूस ने इसका खंडन किया है.

प्योंगयांग में अगल साल 9 फरवरी से विंटर ओलिंपिक की शुरूआत होगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi