S M L

फुटबॉल ही नहीं और भी कई टीमों को नहीं मिलेगा एशियन गेम्स में जाने का मौका

आईओए की क्वालिफाइंग पॉलिसी ने ले ली फुटबॉल समेत कई टीमों की बलि

Updated On: Jul 03, 2018 12:47 PM IST

FP Staff

0
फुटबॉल ही नहीं और भी कई टीमों को नहीं मिलेगा एशियन गेम्स में जाने का मौका

जब भी किसी बड़े खेल आयोजन का मौका हो और भारत में टीम भेजने का मामला हो तो विवाद ना हो,ऐसा मुमकिन नहीं है. भारतीय ओलिंपिक संघ यानी आईओए ने फुटबॉल की टीमों को तो ना भेजने का फैसला किया ही है साथ ही और भी कई टीमों का पत्ता एशियन गेम्स से कट गया है.

एशियन गेम्स के लिए आईओए की सेलेक्शन पॉलिसी के तहत कुछ और टीमों अब एशियाड में हिस्सेदारी से महरूम होने जा रही है. समाचार पत्र अमर उजाला की खबर के मुताबिक आईओए ने कुछ ऐसी टीमों पर भी कैंची चला दी है जिनके मुखिया उसके पदाधिकारी हैं.

पुरुषों की बास्केटबॉल टीम, फैंसिंग टीम, जिम्नास्टिक्स टीम के अलावा महिलाओं की तैराकी, घुड़सवारी और कराटे की टीमों के लिए भी एशियाड में जाना अब दूर की कौड़ी हो गया है.

आईओए ने 35 से 40 खेलों के 515 से 520 एथलीट्स को मंजूरी दी है. आईओए के सैक्रेटरी जनरल राजीव मेहता की अध्यक्षता वाली फैंसिंग फेडरेशन ने 24 सदस्यों की टीम एंट्री कराई थी लेकिन मंजूरी बस चार सदस्यीय टीम को ही मिल सकती है वहीं आईओए के कोषाध्यक्ष आनंदेश्वर पांडे की फेडरेशन हैंडबाल की 16 सदस्यीय पुरुषों की टीम रोक दी गई है.

दरअसल इस बार आईओए ने जो क्वालिफाइंग नीति बनी है उसके मुताबिक, पिछले एशियन गेम्स में छठा स्थान और टीम इवेंट में आठवां स्थान हासिल करने का ही बेंचमार्क बनाया गया है.

आईओए ने दिन एथलीट्स को चुना है उनमें सबसे बड़ा दल एथलेटिक्स का है जिसके 53 सदस्य एशियन गेम्स खेलने जाएंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi