S M L

भारतीय हॉकी कप्‍तान रानी रामपाल को अब नहीं लगता इन टीमों से डर

कप्‍तान ने कहा कि भले ही इस साल गोल्‍ड के काफी करीब जाकर चूक गए, लेकिन टीम ने अपने डर पर विजय पाई है

Updated On: Dec 28, 2018 09:37 PM IST

Bhasha

0
भारतीय हॉकी कप्‍तान रानी रामपाल को अब नहीं लगता इन टीमों से डर

भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल का मानना है कि इस साल शीर्ष रैंकिंग वाली टीमों के खिलाफ मिली सफलता ने भारतीय टीम में नया आत्मविश्वास भरा है और अब वह किसी का सामना करने से डरती नहीं है. भारतीय महिला हॉकी टीम ने 18वें एशियाई खेलों में सिल्‍वर मेडल जीता और एशियाई चैंपियंस ट्रॉफी में भी उपविजेता रही. लंदन में भी विश्व कप में टीम क्वार्टर फाइनल तक पहुंची. वहीं कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स में चौथे स्थान पर रही.रानी ने कहा कि हम एशियाई खेलों और एशियन चैंपियंस ट्रॉफी में गोल्‍ड मेडल जीतना चाहते थे, लेकिन कुल मिलाकर इस साल प्रदर्शन अच्छा रहा. उन्होंने कहा के कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स में इंग्लैंड को 2- 1 से हराना और विश्व कप में लंदन में उनसे 1-1 से ड्रॉ खेलना, वहीं गोल्ड कोस्ट में सेमीफाइनल तक पहुंचने से टीम का आत्मविश्वास बढा है. भारतीय कप्‍तान ने कहा कि हम बड़े टूर्नामेंटों में कड़ी चुनौती दे रहे हैं. हमें विरोधी टीमें अब हल्‍के में नहीं ले रही और यह हमारी इस साल की सबसे बड़ी उपलब्धि है.

 

उन्होंने कहा कि हमारी अंडर 18 टीम ने भी युवा ओलिंपिक खेलों में अच्छा प्रदर्शन करके सिल्‍वर मेडल जीता. नए खिलाड़ी उभर रहे हैं और सीनियर भी अपनी उपयोगिता बनाए रखने के लिए बेहतर प्रदर्शन को कर रहे हैं. टीम में जगह पाने के लिए स्वस्थ प्रतिस्पर्धा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi