S M L

इंडियन वेल्स: नया 'मास्टर्स' बन पोत्रो ने रोका फेडरर का विजय अभियान

हुआन मार्टिन डेल पोत्रो ने रोजर फेडरर को फाइनल में हराकर इस सत्र का उनका विजय अभियान रोक दिया है

Updated On: Mar 19, 2018 12:29 PM IST

FP Staff

0
इंडियन वेल्स: नया 'मास्टर्स' बन पोत्रो ने रोका फेडरर का विजय अभियान

विश्व के नंबर 8 खिलाड़ी हुआन मार्टिन डेल पोत्रो ने शीर्ष खिलाड़ी रोजर फेडरर का छठी बार इंडियन वेल्स मास्टर्स जीतने का सपना तोड़ते हुए खिताब अपने नाम कर लिया है. मार्टिन ने 20 बार के ग्रैंड स्लैम विजेता फेडरर को 4-6, 7-6, 6-7 से हराया और इसी के साथ डेल पोत्रो ने उनका विजय अभियान भी रोक दिया. फेडरर ने इस सत्र में जीत का रिकार्ड जारी रखते हुए 17वां मुकाबला जीता. इससे पहले उनका करियर की सर्वश्रेष्ठ शुरुआत 2006 में रही थी, जिसमें उन्होंने लगातार 16 मैच जीते थे.

2 घंटे 41 मिनट चले इस मुकाबले के पहले सेट को गत विजेता फेडरर ने 4-6 से गंवा दिया और दूसरे सेट को उन्होंने टाई ब्रेक में जीता. तीसरा सेट भी टाई ब्रेक तक खींचा, जिसमें डेल पोत्रो ने दो अंक हासिल करने अपने नाम कर लिया. डेल पोत्रो में 8 और फेडरर ने 10 एस अंक हासिल किए. डबल फॉल्ट के मामले में फेडरर आगे रहे. जहां डेल पोत्रो ने 1 किया, वहीं फेडरर ने पांच डबल फॉल्ट किए.

 

fe3

 

गौरतलब है कि सेमीफाइनल मुकाबले को भी जीतने में फेडरर को काफी पसीना बहाना पड़ा था. 49वें नंबर के खिलाड़ी बोर्ना कोरिच को उन्होंने 5-7, 6-4, 6-4 से हराया था.

  छठी बार खिताब जीतने का सपना टूटा

गत चैंपियन फेडरर ने पिछले साल स्टॉन वावरिंका को हराकर पांचवीं बार इंडियन वेल्स मास्टर्स का खिताब जीता था, जिसे वह बचाने में असफल रहे. इससे पहले फेडरर ने 2004 से 2006 तक लगातार तीन बार इस खिताब को अपने नाम किया था, वहीं 2012 में भी जीतने में सफल रहे थे. हुआन 2013 में फाइनल तक पहुंचे थे, लेकिन उस समय राफेल नडाल ने खिताब जीतने का उनका सपना तोड़ दिया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता
Firstpost Hindi