S M L

Asian Games 2018: ओलिंपिक संघ ने स्पोर्ट्स फेडरेशन के सामने रखी अहम 'डिमांड'

आईओए ने अब तक जिन 541 खिलाड़ियों को स्वीकृति दी है उसमें 297 पुरुष और 244 महिला खिलाड़ी शामिल हैं, आईओए बराबरी की संख्या चाहता है

FP Staff Updated On: Jul 24, 2018 12:08 PM IST

0
Asian Games 2018: ओलिंपिक संघ ने स्पोर्ट्स फेडरेशन के सामने रखी अहम 'डिमांड'

भारतीय ओलिंपिक संघ ने राष्ट्रीय खेल महासंघों से आगामी एशियाई खेलों के लिए अपने दलों में समान संख्या में पुरुष और महिला सहयोगी स्टाफ को नामांकित करने को कहा है. एक शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी. आईओए ने अब तक जिन 541 खिलाड़ियों को स्वीकृति दी है उसमें 297 पुरुष और 244 महिला खिलाड़ी शामिल हैं. आईओए चाहता है कि भारतीय दल में पुरुष और महिला सहयोगी स्टाफ की संख्या समान हो.

आईओए महासचिव राजीव मेहता ने बताया , ‘कुछ खेलों के अलावा बाकी अन्य में पुरुष और महिला खिलाड़ियों का प्रतिनिधित्व लगभग बराबर है. कुछ खेलों (तलवारबाजी , बास्केटबाल और ताइक्वांडो) में सिर्फ महिलाएं हैं इसलिए हम पुरुष और महिला सहयोगी स्टाफ की संख्या लगभग बराबर चाहते हैं.’

उन्होंने कहा , ‘शायद ऐसा नहीं हो कि पुरुष और महिला सहयोगी स्टाफ की संख्या बिलकुल बराबर हो लेकिन यह लगभग समान होनी चाहिए. अधिक अंतर नहीं होना चाहिए. हमने एनएसएफ को यह जानकारी दे दी है. ’मेहता ने बताया कि एनएफस की ओर से नामित अधिकारियों की कुल संख्या 201 है लेकिन अंतिम संख्या का पता पुरुष और महिला सहयोगी स्टाफ के समान प्रतिनिधित्व के आईओए के निर्देश के बाद ही चलेगा.

उन्होंने कहा , ‘एनएसएफ ने हमें कुल 201 स्टाफ का नाम दिया है और नियमों के अनुसार यह 163 होना चाहिए. हम इस संख्या में कटौती करेंगे लेकिन कुछ को महासंघों के खर्चे पर भेजने की सिफारिश (खेल मंत्रालय को) की जा सकती है. अंतिम दल का पता एक या दो दिन में चलेगा.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi