S M L

त्रिकोणीय हॉकी टूर्नामेंट : जर्मनी के साथ भारत ने खेला ड्रॉ

मनदीप और सरदार सिंह ने एक मिनट के भीतर दागे दो गोल

Updated On: Jun 09, 2017 11:03 PM IST

FP Staff

0
त्रिकोणीय हॉकी टूर्नामेंट : जर्मनी के साथ भारत ने खेला ड्रॉ

मनदीप सिंह और सरदार सिंह के एक मिनट के भीतर दो गोल ने भारत का काम आसान किया. डसेलडर्फ में चल रहे तीन देशों के हॉकी टूर्नामेंट में भारत और जर्मनी के बीच मुकाबला 2-2 से बराबर रहा. मनदीप और सरदार दोनों ने मैच के 45वें मिनट में गोल किया.

जर्मनी की तरफ से 13वें मिनट में लिकलस वेलेन और 52वें मिनट में तोबियास हॉके ने गोल किए. भारत और जर्मनी दोनों ने अपना पहला मैच हारा था. दोनों को ही बेल्जियम ने हराया है. ऐसे में उम्मीद की जा रही थी कि शनिवार को होने वाला मुकाबला काफी कड़ा होगा. जर्मनी और भारत दोनों ने काफी रफ्तार भरी हॉकी खेली.

पहले क्वार्टर में भारतीय गोलकीपर विकास दहिया काफी व्यस्त रहे. जर्मनी ने चौथे मिनट में पेनल्टी कॉर्नर पाया. दहिया ने अच्छा बचाव किया. 12वें मिनट में भारत गोल करने के करीब पहुंचा. सुनील और रमनदीप सिंह की जोड़ी ने अच्छी कोशिश की, लेकिन रमनदीप का हिट बाहर गया. इसके ठीक एक मिनट बाद वेलेन ने अपनी टीम को बढ़त दिला दी.

दूसरे क्वार्टर में वेलेन गोल करने के करीब पहुंचे. गोल खुला था, कोई भारतीय डिफेंडर नहीं था. लेकिन वेलेन पोस्ट के ऊपर मार गए. रमनदीप को एक और मौका मिला. लेकिन वो एक बार फिर चूक गए. जर्मनी ने लगातार हमले किए और भारत पर दबाव बनाया. उन्हें दूसरा पेनल्टी कॉर्नर मिला. भारतीय कप्तान चिंगलेनसाना सिंह ने शानदार बचाव किया.

तीसरा क्वार्टर भारत के नाम रहा. पहले मनदीप सिंह ने शानदार स्टिकवर्क का मुजाहिरा करते हुए टीम को बराबरी दिलाई. इसके ठीक बाद सरदार सिंह ने बेहतरीन ड्रिब्लिंग दिखाई. वो सर्कल तक आए और गोल पर हिट किया. जर्मन कीपर के पास कोई मौका नहीं था.

भारत के पास मैच खत्म होने के आठ मिनट पहले तक बढ़त थी. लेकिन तोबियास हॉके ने गोल करके बराबरी पाई. आखिरी समय में भारत के आकाश चिकते ने शानदार बचाव किया. दो मिनट बाकी थे, तब जर्मनी को पेनल्टी कॉर्नर मिला. इस पर भारतीय डिफेंस ने बढ़िया बचाव किया. भारत का अगला मैच 5 जून को बेल्जियम के खिलाफ है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi