S M L

अब हर साल आपस में खेलेंगे भारत और पाकिस्तान

2019 से शुरू होने वाली हॉकी प्रो लीग में खेलेंगी नौ टीमें

Updated On: Jun 12, 2017 12:28 AM IST

Shailesh Chaturvedi Shailesh Chaturvedi

0
अब हर साल आपस में खेलेंगे भारत और पाकिस्तान

जिन्हें भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट मैच का इंतजार रहता है, उनका इंतजार कुछ रोज पहले ही पूरा हुआ है. चैंपियंस ट्रॉफी में ये दोनों टीमें आपस में खेली थीं. एक और खेल है, जिसमें भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबले का शिद्दत से इंतजार रहता है. वो है हॉकी. हॉकी में दोनों मुल्क के तमाम खिलाड़ी एक-दूसरे के बीच मुकाबले का इंतजार करते हैं.

पिछले काफी समय से भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला नहीं हुआ है. 2019 आएगा, तो इन दोनों मुल्कों के बीच नियमित तौर पर मुकाबले देखने को मिलेंगे. इंटरनेशनल हॉकी फेडरेशन यानी एफआईएच ने होम एंड एवे लीग की शुरुआत कर दी है. इसमें भारत और पाकिस्तान दोनों मुल्कों की टीमें होंगी.

हालांकि इसमें ये साफ कर दिया गया है कि भारतीय और बाकी टीमें पाकिस्तान नहीं जाएगी. पाकिस्तानी टीम अपने घरेलू मैच स्कॉटलैंड में खेलेगी. स्कॉटलैंड ने इसके लिए हामी भर दी है. एफआईएच के मुताबिक वहां पर पाकिस्तानी लोग बड़ी तादाद है, इसलिए वहां मैच कराने का फैसला किया गया है.

होम एंड अवे लीग को हॉकी प्रो लीग का नाम दिया गया है. यह जनवरी 2019 में शुरू होगी. इसमें छह महीनों में 144 मैच खेले जाएंगे. अगले चार साल तक यही इवेंट बड़े टूर्नामेंट के लिए क्वालिफाइंग इवेंट भी होगा. जिनके लिए यह क्वालिफाइंग इवेंट होगा, उनमें ओलिंपिक और वर्ल्ड कप शामिल हैं.

प्रो लीग में महिला और पुरुषों की नौ-नौ टीमें होंगी. डबल राउंड रॉबिन फॉरमेट में हर टीम बाकी सभी आठ टीमों के खिलाफ घर और बाहर मुकाबले खेलेगी. चार साल के पीरियड में टॉप चार टीमों के बीच ग्रैंड फिनाले होगा. इसके मैच जनवरी से जून तक वीकेंड पर खेलेंगी. इस लीग का मतलब है कि अब चैंपियंस ट्रॉफी और वर्ल्ड हॉकी लीग नहीं होंगे. वर्ल्ड ह की लीग की शुरुआत 2012 में की गई थी. हालांकि बदलाव के साथ वर्ल्ड हॉकी लीग के पहले दो राउंड खेले जाएंगे.

सात टीमें ऐसी हैं, जिन्होंने पुरुष और महिला दोनों वर्ग में खेलेंगी. ये हैं अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, नेदरलैंड्स, न्यूजीलैंड, जर्मनी, भारत और इंग्लैंड. पुरुषों में इन सात के अलावा बेल्जियम और पाकिस्तान हैं. महिलाओं में अमेरिका और चीन हैं. जो मुख्य टीमें क्वालिफाई नहीं कर पाई हैं, उनमें पुरुष वर्ग में अहम टीमें आयरलैंड, मलेशिया और स्पेन हैं. महिलाओं में बेल्जियम, आयरलैंड, इटली, जापान और स्पेन की टीमों को जगह नहीं मिली है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi