S M L

फ्रेंच ओपन 2018: क्या इस मुश्किल 'युवा चुनौती' को पार कर पाएगा क्ले कोर्ट का 'किंग'

फ्रेंस ओपन 2018 के पुरुष सिंगल्स के फाइनल में राफेल नडाल और डोमिनिक थीम का आमना-सामना होगा

FP Staff Updated On: Jun 10, 2018 02:23 PM IST

0
फ्रेंच ओपन 2018: क्या इस मुश्किल 'युवा चुनौती' को पार कर पाएगा क्ले कोर्ट का 'किंग'

रविवार को फ्रेंच ओपन का पुरुष सिंगल्स मुकाबला खेला जाएगा. 10 बार फ्रेंच ओपन का खिताब जीतने वाले क्ले कोर्ट के राजा कहे जाने वाले राफेल नडाल का सामना युवा चुनौती के तौर पर उभरे डोमिनिक थीम से होगा. लाल बजरी पर नडाल हमेशा से ही अपने विरोधियों पर भारी पड़ते रहे हैं. अब तक के आंकडें देखे जाए तो राफेल नडाल फ्रेंस ओपन का फाइनल कभी नहीं हारे हैं. सिर्फ यही नहीं उन्होंने हमेशा ही सीधे सेटों में जीत हासिल की है. लेकिन इस बार उनके सामने एक मजबूत दावेदार के तौर डोमिनिक थीम है. अब तक ग्रैंड स्लैम का खाता भी ना खोल पाने वाले थीम के सामने 16 ग्रैंड स्लैम विजेता की चुनौती है. थीम 1995 में थॉमस मस्टर के बाद किसी ग्रैंडस्लैम फाइनल में पहुंचने वाले पहले ऑस्ट्रियाई खिलाड़ी हैं

नडाल का सफर

रोजर फेडरर के ना खेलने से नडाल को इस खिताब सबसे बड़ा दावेदार माना जा रहा है. पहले दौर के मुकाबले आसानी से जीतने के बाद शीर्ष वरीयता प्राप्त नडाल ने अपने दूसरे दौर के मुकाबले में अर्जेंटीना के गुइडो पेला को दो घंटे, तीन मिनट तक चले तीन सेटों के मुकाबले में 6-2, 6-1, 6-1 से मात दी. इसके बाद राफेल नडाल ने 11वें फ्रेंच ओपन खिताब की ओर कदम बढ़ाते हुए अपने बचपन के दोस्त फ्रांस के रिचर्ड गैस्के को 6-3, 6-2 , 6-2 से हरा दिया.

Tennis - French Open - Roland Garros, Paris, France - June 4, 2018 Spain's Rafael Nadal celebrates winnning his fourth round match against Germany's Maximilian Marterer REUTERS/Charles Platiau - RC16BBE5A9D0

नडाल ने तेज धूप के बीच श्वार्ट्जमैन के खिलाफ 4-6, 6-3, 6-2, 6-2 से जीत दर्ज की और सेमीफाइनल में प्रवेश किया जहां उनका सामना डेल पोत्रो से था. नडाल ने अर्जेंटीना के पोत्रो को 2 घंटे 14 मिनट में सीधे सेटों में 6-4, 6-1, 6-2 से हराया. पूरे मुकाबले में शीर्ष खिलाड़ी पोत्रो पर हावी दिखे.

  डोमिनिक थीम का सफर

24 साल के ऑस्ट्रिया के इस खिलाड़ी का ये पहला ग्रैंड स्लैम फाइनल है. सातवीं वरीय थीम के लिए ये एक बड़ा मौका है. डोमिनिक थीम ने प्री क्वार्टर फाइनल में जापान के केई निशिकोरी को 6-2, 6-0, 5-7, 6-4 से हराकर लगातार तीसरे क्वार्टरफाइनल में जगह बनाई थी. ऑस्ट्रिया के थीम ने एकतरफा क्वार्टर फाइनल में जर्मनी के दूसरे वरीय ज्वेरेव के खिलाफ 6-4, 6-2, 6-1 से जीत दर्ज की थी और सेमीफाइनल में जगह बनाई थी. सेमीफाइनल में उन्होंने इटली के चेकिनातो को 7-5,7-6,6-1 से मात दी थी.

Tennis - French Open - Roland Garros, Paris, France - June 5, 2018 Austria's Dominic Thiem celebrates after winning his quarter final match against Germany's Alexander Zverev REUTERS/Benoit Tessier - RC19FCB7F370

नडाल भले ही क्ले कोर्ट के किंग लेकिन इस बात में भी सच्चाई है कि उन्हें लाल बजरी हमेशा से ही थीम से चुनौती मिली है. पिछले दो साल में क्ले कोर्ट पर खेले अपने 52 मैचों में नडाल को दो ही मैच में मात मिली है और दोनों बार उनको हराने वाले खिलाड़ी कोई और नहीं डोमिनिक थीम ही थे. डोमिनिक थीम अगर ये खिताब जीत जाते हैं तो वह ऐसा करने वाले सबसे युवा खिलाड़ी होंगे. उनसे पहले ये रिकॉर्ड नडाल के नाम था जिन्होंने साल 2010 में 24 साल की उम्र में पहला फ्रेंच ओपन खिताब जीता था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi