S M L

ओलिंपिक में मेडल चाहिए तो वैसी सुविधा भी होनी चाहिए - विनेश फोगाट

विनेश ने हालांकि भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) की आलोचना नहीं की

Bhasha Updated On: Aug 13, 2018 06:31 PM IST

0
ओलिंपिक में मेडल चाहिए तो वैसी सुविधा भी होनी चाहिए - विनेश फोगाट

विनेश फोगाट ने कहा कि भारत अपने पहलवानों से ओलिंपिक मेडल की उम्मीद करता है लेकिन इस तरह के चैंपियन तैयार करने के लिए उन्हें उस तरह की सुविधाएं प्रदान नहीं करता है हालांकि प्रशिक्षण की परिस्थितियों में मामूली सुधार हुआ है.

हरियाणा की 23 वर्षीय विनेश अच्छी फॉर्म में हैं उन्होंने एशियाई खेलों से पहले कॉमनवेल्थ गेम्स और स्पेन में ग्रां प्री में गोल्ड मेडल जीते थे.

विनेश लखनऊ में राष्ट्रीय शिविर का हिस्सा थीं, लेकिन उन्होंने खुलासा किया कि वह कुछ सत्रों में नहीं गईं क्योंकि अभ्यास हॉल में काफी गर्मी थी और कड़े अभ्यास से उन्हें चोट लग सकती थी.

sakshi vinesh bajrang

विनेश ने कहा, ‘हमें अब एशियाई खेलों में खेलना है और उसके बाद विश्व चैंपियनशिप होने वाली है लेकिन चीजें अब भी जहां की तहां हैं. (अभ्यास स्थलों पर) भोजन में सुधार हुआ है, लेकिन कई चीजों में बदलाव की जरूरत है.’

उन्होंने कहा, ‘अगर आपको ओलिंपिक मेडल चाहिए तो आपको उस तरह की सुविधाएं भी प्रदान करनी होंगी. परिस्थितियां कैसी भी हों हम अभ्यास करते हैं लेकिन इससे हमारी फिटनेस प्रभावित होती है और यह चोट का कारण भी बन सकती हैं. (लखनऊ में) कुश्ती हॉल में इन दिनों भी बहुत गर्मी थी जबकि यह बारिश का मौसम है.’

विनेश ने कहा, ‘हमें बहुत पसीना आता था और इससे आपकी फिटनेस प्रभावित होती है. मुझे घुटनों में दर्द महसूस होने लगा था. कई बार वहां बिजली नहीं होती थी. मैंने कुछ अवसरों पर अभ्यास नहीं किया. लेकिन हम कर भी क्या सकते हैं.’ विनेश ने हालांकि भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) की आलोचना नहीं की.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi