S M L

पहले दिन से ही बर्खास्तगी के लिए तैयार था- रोलंट ओल्टमंस

हटाए जाने के बाद हॉकी कोच ओल्टमंस का बयान, 'विदेशी कोचों के लिए भारत में काम करना आसान नहीं'

Updated On: Sep 02, 2017 09:09 PM IST

FP Staff

0
पहले दिन से ही बर्खास्तगी के लिए तैयार था- रोलंट ओल्टमंस

भारतीय टीम के साथ साढ़े चार साल के कार्यकाल के बाद हॉकी इंडिया द्वारा बर्खास्त किए गए कोच रोलंट ओल्टमंस ने कहा कि वह इस फैसले के लिए शुरू से ही तैयार थे. विदेश के हॉकी कोचों के लिए राष्ट्रीय महासंघ के साथ मतभेदों और नौकरशाही बाधाओं के कारण भारत हमेशा ही मुश्किल स्थान रहा है. बीते समय में भी मशहूर कोच जैसे आस्ट्रेलिया के रिक चाल्र्सवर्थ, स्पेन के जोस ब्रासा, मिशेल नोब्स, टेरी वाल्श और पॉल वान एस को कार्यकाल खत्म होने से पहले ही हटा दिया गया था.

वर्ष 2013 में ओल्टमेंस को हाई परफोरमेंस निदेशक नियुक्त किया गया था, उनसे यह पूछने पर कि क्या वह कोचिंग के मुश्किल काम के लिये तैयार थे तो उनका जवाब सकारात्मक था. उन्होंने बर्खास्त किये जाने के बाद कहा, ‘हम सभी (विदेशी कोच) जानते हैं कि भारत काम करने के लिए आसान देश नहीं हैं, विशेषकर खेलों में क्योंकि यहां कई तरह के मुद्दे होते हैं. लेकिन मैं शुरू से ही इसके लिए तैयार था. जब मैंने पेशकश स्वीकार की थी तो मैं जानता था कि एक दिन मुझे भी बर्खास्त कर दिया जायेगा लेकिन मैं इसके लिए तैयार था.’

ओल्टमेंस ने कहा कि उनके कोई पछतावा नहीं है और साथ ही उम्मीद जताई कि उन्होंने भारतीय टीम के लिए अच्छा खाका तैयार कर दिया है. उन्होंने कहा, ‘मुझे कोई मलाल नहीं है क्योंकि मैं जानता हूं कि मैंने भारतीय हाकी के लिए पिछले साढ़े चार वर्षों में कुछ चीजें तैयार कर दी हैं. टीम ने अच्छी प्रगति की है और मैं सिर्फ यही उम्मीद करूंगा कि जो प्रक्रिया मैंने शुरू की है, वह भविष्य में भी जारी रहेगी.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi