live
S M L

बोल्ट होंगे रिटायर: जिसकी रफ्तार से थमती थी सांसें, अब थमेंगे उसके पांव

बोल्ट ने कहा- सब पा लिया... अब एथलेटिक्स में रहने का कोई मतलब नहीं

Updated On: Feb 15, 2017 12:35 PM IST

FP Staff

0
बोल्ट होंगे रिटायर: जिसकी रफ्तार से थमती थी सांसें, अब थमेंगे उसके पांव

वाकई उनके कदम बढ़ते थे, तो सांसें थमती थीं. जश्न में उनके हाथ उठते थे, तो ऐसा लगता था मानो पूरी दुनिया जश्न मना रही हो. यूसेन बोल्ट. आठ ओलिंपिक गोल्ड मैडल जीतने वाले. उन्हें अब लगता है कि एथलेटिक्स में रहने का कोई मतलब नहीं बचा है. उन्हें रिटायरमेंट के फैसले पर कोई अफसोस नहीं है. 2017 की वर्ल्ड चैंपियनशिप आएगी, तो उसके बाद बोल्ट फिर कभी ट्रैक पर दौड़ते नजर नहीं आएंगे.

अगस्त में लंदन में वर्ल्ड चैंपियनशिप होगी. इसी के साथ आठ ओलिंपिक गोल्ड मेडलिस्ट के करियर का समापन हो जाएगा. उन्होंने कहा कि रिटायरमेंट के फैसले पर उन्हें कोई अफसोस नहीं है. उन्होंने वो सब पा लिया है, जो खेल से उम्मीद की थी.

 

बोल्ट ने कहा कि मैंने माइकल जॉनसन से एक बार यही सवाल पूछा था कि आप तब क्यों छोड़ रहे हैं, जब टॉप पर हैं. उन्होंने यही जवाब दिया था कि मैंने सब पा लिया है. अब मेरे पास एथलेटिक्स से जुड़े रहने का कोई मतलब नहीं है. बोल्ट ने कहा कि जॉनसन के जवाब का मतलब अब उन्हें समझ आया है.

बोल्ट ने 100, 200 और चार गुणा 400 मीटर रिले में ओलिंपिक खिताब जीते हैं. उन्हें हाल ही में 2008 ओलिंपिक के रिले गोल्ड से हाथ धोना पड़ा, क्योंकि उनके साथी नेस्टा कार्टर डोप टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए थे. कार्टर ने कैस में अपील करने की बात कही है.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi