S M L

हिमा दास के कोच पर एथलीट ने लगाया यौन शोषण का आरोप, जमानत पर छूटे

निपुन दास ने एथलीट के आरोपों को बेबुनियाद बताया और कहा कि उसने अपना सेलेक्शन नहीं होने पर यह कदम उठाया है

Updated On: Jul 29, 2018 10:13 AM IST

FP Staff

0
हिमा दास के कोच पर एथलीट ने लगाया यौन शोषण का आरोप, जमानत पर छूटे

भारत की 18 वर्षीय एथलीट हिमा दास के कोच निपुन दास पर एक अन्य एथलीट ने यौन शोषण का आरोप लगाया है. आरोप लगाने वाली एथलीट को निपुन दास ने गुवहाटी में कोचिंग दी थी. इस महीने की शुरुआत में हिमा दास आईएएफ वर्ल्ड अंडर-20 चैंपियनशिप में 400 मीटर की रेस में स्वर्ण पदक जीतकर चर्चा में आई थी.

खबर की पुष्टि करते हुए असम के स्पोर्ट्स एवं यूथ वेल्फेयर डिपार्टमेंट के कमिश्नर और सेकेट्ररी आशुतोष अग्निहोत्री ने ईएसपीएन से कहा, “हां निपुन दास पर यौन शोषण का आरोप लगा है और हम जांच करा रहे हैं,”

जिस एथलीट ने निपुन दास पर आरोप लगाया है वह इंटर स्कूल नेशनल प्रतियोगिता में असम का प्रतिनिधत्व कर चुकी है. एथलीट के अनुसार सौरासाजी में ट्रेनिंग के दौरान निपुन दास ने उसका यौन शोषण किया था. एथलीट ने फर्स्टपोस्ट को बताया कि कोच ने उसे धमकी दी थी कि अगर उसने घटना के बारे में किसी को बताया तो वह उसे ट्रेनिंग और खेल आयोजनों से सस्पेंड कर देगा.

पीड़ित के परिवारवालों ने 22 जून को बसिस्था पुलिस स्टेशन में कोच के खिलाफ धारा 342 (गलत तरीके से प्रतिबंधित करना) 354 (स्त्री की लज्जा भंग करना) 376 (रेप), 511 और 506 (आपराधिक धमकी) के तहत केस दर्ज किया है.

इस मामले में निपुन दास को गिरफ्तार भी किया गया था हालांकि अगले ही दिन उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया. हलांकि कोच ने इन सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया है. उन्होंने कहा 'उस एथलीट को 100मीटर और 200 मीटर में मैंने ट्रेन किया है. वह नेशनल इंटर स्टेट चैंपियनशिप में असम की टीम का हिस्सा बनना चाहती है. जब मैंने उसकी जगह उन लड़कियों का चयन किया जो उससे बेहतर थी तो उसने बदला लेने के लिए यह तरीका अपनाया. उसके पास अपने आरोपों का कोई सबूत नहीं है. यह सब झूठ है.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi