S M L

Asian Para Games 2018 : हरविंदर सिंह ने देश को दिलाया ओपन इंडिविजुअल रिकर्व में गोल्ड

डब्ल्यू 2 वर्ग में ऐसे खिलाड़ी होते हैं जो पक्षाघात या घुटने के नीचे दोनों पैर कटे होने के कारण खड़े नहीं हो पाते

Updated On: Oct 10, 2018 11:00 PM IST

Bhasha

0
Asian Para Games 2018 : हरविंदर सिंह ने देश को दिलाया ओपन इंडिविजुअल रिकर्व में गोल्ड

तीरंदाज हरविंदर सिंह ने बुधवार को यहां एशियाई पैरा खेलों की पुरुष व्यक्तिगत रिकर्व स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीता जबकि ट्रैक एवं फील्ड खिलाड़ी एक सिल्वर और एक ब्रॉन्ज मेडल जीतने में सफल रहे.

मोनु घंगास ने पुरुष चक्का फेंक एफ 11 वर्ग में सिल्वर मेडल जीता जबकि मोहम्मद यासिर ने पुरुष गोला फेंक एफ 46 वर्ग में ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया. हरविंदर ने डब्ल्यू 2/ एसटी वर्ग के फाइनल में चीन के झाओ लिश्यु को 6-0 से हराकर खिताब अपने नाम करते हुए भारत के गोल्ड मेडलों की संख्या को सात तक पहुंचाया.

डब्ल्यू 2 वर्ग में ऐसे खिलाड़ी होते हैं जो पक्षाघात या घुटने के नीचे दोनों पैर कटे होने के कारण खड़े नहीं हो पाते और उन्हें व्हीलचेयर की जरूरत पड़ती है. एसटी वर्ग के तीरंदाज में सीमित दिव्यांगता होती है और वे व्हीलचेयर के बिना भी निशाना लगा सकते हैं.

ट्रैक एवं फील्ड में मोनु ने अपने तीसरे प्रयास में 35.89 मीटर की दूरी तक चक्का फेंककर रजत पदक हासिल किया. ईरान के ओलाद माहदी ने 42.37 मीटर के नए रिकार्ड के साथ गोल्ड मेडल जीता.

गोला फेंक में यासिर ने 14.22 मीटर के प्रयास से कांस्य पदक जीता. चीन के वेई एनलोंग (15 .67 मीटर) ने खेलों के नए रिकार्ड के साथ स्वर्ण जबकि कजाखस्तान के मानसुरबायेव राविल (14 .66 मीटर) ने सिल्वर मेडल जीता.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi