S M L

चार देशों का हॉकी टूर्नामेंट: बेल्जियम से भारत ने हिसाब किया बराबर, 5-4 से दी मात

भारतीय हॉकी टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए दुनिया की तीसरे नंबर की टीम बेल्जियम को दूसरे लेग के दूसरे मैच में 5-4 से हरा दिया

Updated On: Jan 25, 2018 04:19 PM IST

Bhasha

0
चार देशों का हॉकी टूर्नामेंट: बेल्जियम से भारत ने हिसाब किया बराबर, 5-4 से दी मात

भारतीय हॉकी टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए दुनिया की तीसरे नंबर की टीम बेल्जियम को चार देशों के हॉकी टूर्नामेंट के दूसरे मैच में 5-4 से हरा दिया.

भारत को पहले चरण के फाइनल में बेल्जियम ने 2 -1 से हराया था. भारतीय टीम ने उस हार का बदला चुकता करते हुए रोमांचक मुकाबले में जीत दर्ज की.

भारत के लिए रूपिंदर पाल सिंह ( चौथा, 42वां मिनट), हरमनप्रीत सिंह ( 46वां), ललित उपाध्याय ( 53वां ) और दिलप्रीत सिंह ( 59वां मिनट ) ने गोल किए. वहीं बेल्जियम के लिए जान जान डोमैन (17वां), फेलिक्स डेनायेर ( 37वां), अलेक्जेंडर हेंडरिक्स (45वां ) और टाम बून ( 56वां ) ने गोल दागे.

कोच शोर्ड मारिन की भारतीय टीम ने अनुशासित शुरआत की और टू टच हॉकी खेलकर बेल्जियम के गोल में हमले बोले.

इसका फायदा पहले पेनल्टी कॉर्नर के रूप में मिला जिसे रूपिंदर पाल सिंह ने गोल में बदला. दूसरे क्वार्टर में यूरोपीय टीम ने जान जान के गोल के दम पर वापसी की. बेल्जियम को 24वें मिनट में मिले पेनल्टी कॉर्नर को टॉम बून गोल में नहीं बदल सके. तीसरे क्वार्टर में दोनों टीमों ने आक्रामक हॉकी खेली. बेल्जियम ने 37वें मिनटमें गोल करके बढत हासिल कर ली. इसके कुछ मिनट बाद भारत ने पेनल्टी कॉर्नर बनाया और रूपिंदर ने दूसरा गोल करके भारत को 42वें मिनट में 2 -2 से बराबरी दिला दी.

आखिरी क्वार्टर में दोनों टीमों ने जबर्दस्त आक्रामक हॉकी खेली. भारत को जवाबी हमले में पेनल्टी कॉर्नर मिला लेकिन रूपिंदर की ड्रैग फ्लिक को बेल्जियम के गोलकीपर विंसेंट वानाश ने बचा लिया. रिबाउंड पर हरमनप्रीत ने गोल करके स्कोर 3-3 से बराबर किया.

भारत को अगले मिनट फिर पेनल्टी कॉर्नर मिला लेकिन गोल नहीं हो सका. इस बीच विवेक प्रसाद ने बेल्जियम के सर्कल में घुसकर ललित को पोस्ट के सामने गेंद सौंपी जिसे गोल में बदलने में उसने गलती नहीं की.

आखिरी सीटी बजने से पांच मिनट पहले भारत ने पेनल्टी कॉर्नर गंवाया जिसे बून ने गोल में बदलकर बेल्जियम को फिर 4-4 से मैच में लौटाया.

आखिरी कुछ मिनटों में पी आर श्रीजेश ने सेड्रिक चार्लियेर का शर्तिया गोल बचाया. कुछ सेकंड बाद रमनदीन सिंह ने मूव बनाया और दिलप्रीत को गेंद सौंपी जिसने विजयी गोल दागा. भारतीय टीम 27 जनवरी को जापान से खेलेगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi