S M L

Hockey world cup 2018, Pak vs Ger: जर्मनी को कड़ी टक्कर देने के बावजूद पाकिस्तान नहीं टाल पाई हार

पाकिस्तान ने टूर्नामेंट को लेकर जिस तरह की तैयारी की थी उसे देखते हुए इस नतीजे को उसके लिए संतोषजनक कहा जा सकता है

Updated On: Dec 01, 2018 10:08 PM IST

Bhasha

0
Hockey world cup 2018, Pak vs Ger: जर्मनी को कड़ी टक्कर देने के बावजूद पाकिस्तान नहीं टाल पाई हार

चार बार की चैंपियन पाकिस्तान ने ओलिंपिक ब्रॉन्ज मेडल विजेता जर्मनी को कड़ी टक्कर देने के बावजूद हॉकी विश्व कप के पूल डी मुकाबले में शनिवार को यहां 0-1 से हार गया.

पाकिस्तान ने टूर्नामेंट को लेकर जिस तरह की तैयारी की थी उसे देखते हुए इस नतीजे को उसके लिए संतोषजनक कहा जा सकता है. पैसे की कमी के कारण पाकिस्तानी टीम के इस टूर्नामेंट में भागीदारी पर संदेह था लेकिन अंतिम समय में हायर कंपनी के साथ प्रायोजन समझौते से वह यहां आ सके.

कुछ दशक पहले तक पाकिस्तान की टीम हाकी की दुनिया में शीर्ष टीमों में थे लेकिन पिछले कुछ दशकों में उनके खेल में गिरावट आई है. मौजूदा समय में विश्व रैंकिंग में 13वें स्थान पर काबिज पाकिस्तान ने हालांकि रैंकिंग में छठें स्थान पर काबिज जर्मनी को गोल करने से 36वें मिनट तक रोके रखा. मैच का एकमात्र गोल जर्मनी के मार्को मिलत्काउ ने 36वें मिनट में किया.

हॉकी प्रशंसकों ने पाकिस्तान के खेल की जमकर हौसलाअफजाई की. 2014 में चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान प्रशंसकों का पाकिस्तान को लेकर रवैया अच्छा नहीं था लेकिन इस मैच में दर्शकों ने दोनों देशों की अच्छे से हौसलाअफजाई की. पाकिस्तान की टीम पहले दो क्वार्टर में जर्मनी को रोकने में पूरी तरह सफल रही. जर्मनी ने गोलपोस्ट के दोनों ओर से मौके बनाने की कोशिश की लेकिन पाकिस्तान के खिलाड़ियों ने उन्हें सफल नहीं होने दिया. इस बीच पाकिस्तान के गोलकीपर इमरान बट ने दो बार टीम को पिछड़ने से बचाया. उन्होंने तीसरे मिनट में जर्मनी के क्रिस्टोफर रूहर के पास पर बेनेडिक्ट फुर्क के पास को गोल बदलने से रोका.

pakistan hockey

हाफ टाइम के बाद छोर बदलने के बाद जर्मनी ने गोल का खाता खोला. निकलस वेल्लेन के पास को मिलत्काउ ने गोल में बदल दिया. पाकिस्तान ने भी इस क्वार्टर में मौके बनाए लेकिन उसे सफलता नहीं मिली. पाकिस्तान को 38वें मिनट में स्कोर को बराबर करने का सुनहरा मौका मिला लेकिन अम्माद बट के पास पर मुहम्मद जुबैर गोल नहीं कर सके.

मैच का एकमात्र पेनल्टी कॉर्नर जर्मनी को 41वें मिनट में मिला लेकिन टीम इसका फायदा नहीं उठा सकी. इसके बाद वाल्लेन ने जर्मनी के लिए सर्कल से एक और मौका बनाया लेकिन उनका शाट गोलपोस्ट के दूर से निकल गया.

अंतिम हूटर बजने से छह मिनट पहले मिलत्काउ ने एक और गोल कर टीम की बढ़त को दोगुना कर दिया लेकिन पाकिस्तानी खिलाड़ियों ने इस गोल का विरोध किया और वीडियो रेफरल में दिखा की गेंद जर्मनी के स्ट्राइकर के पैर से टकरा गयी थी जिसके बाद इस गोल को रद्द कर दिया गया. पाकिस्तान का अगला मुकाबला पांच दिसंबर को मलेशिया से होगा जबकि जर्मनी का सामना नैदरलैंड्स से होगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi