S M L

Hockey world cup 2018, Pak vs Mal: मलेशिया-पाकिस्तान के ड्रॉ से कड़ा हुआ पूल डी में मुकाबला

इस ड्रॉ का मतलब है कि पाकिस्तान और मलेशिया का नॉकआउट दौर की दौड़ में मौका बना हुआ है क्योंकि दोनों के दो-दो मैचों में एक-एक अंक हैं

Updated On: Dec 05, 2018 10:30 PM IST

Bhasha

0
Hockey world cup 2018, Pak vs Mal: मलेशिया-पाकिस्तान के ड्रॉ से कड़ा हुआ पूल डी में मुकाबला

चार बार की चैंपियन पाकिस्तान ने बुधवार को यहां पुरूष हॉकी विश्व कप के पूल डी में मलेशिया से 1-1 से ड्रॉ खेला जिससे दोनों टीम नाकआउट दौर में जगह बनाने की दौड़ में बरकरार हैं. पाकिस्तान टीम ने 51वें मिनट में मोहम्मद अतीक के गोल से बढ़त हासिल की जिसकेने चार मिनट बाद मलेशिया ने पेनल्टी कॉर्नर पर फैजल सारी के गोल की बदौलत बराबरी हासिल की, जिससे दोनों टीमें टूर्नामेंट में बनी हुई हैं.

इस ड्रॉ का मतलब है कि पाकिस्तान और मलेशिया का नॉकआउट दौर की दौड़ में मौका बना हुआ है क्योंकि दोनों के दो-दो मैचों में एक-एक अंक हैं. जर्मनी की टीम पूल में छह अंक लेकर नेदरलैंड्स और पाकिस्तान से आगे शीर्ष पर है. मलेशियाई टीम खराब गोल अंतर के कारण अंतिम स्थान पर काबिज है. पाकिस्तान को इससे पहले जर्मनी से एकमात्र गोल से हार मिली थी जबकि मलेशिया को नेदरलैंड्स ने 0-7 से पराजित किया था.

यह भी पढ़ें - जानिए गुरुवार को कौन सी टीमें होंगी आमने-सामने

पाकिस्तानी टीम पूल मुकाबलों का अंत नौ दिसंबर को नेदरलैंड्स के खिलाफ मुकाबले से करेगी जबकि मलेशिया का गोल अंतर माइनस सात है जिसे इसी दिन जर्मनी से कड़ी चुनौती मिलेगी. दुनिया की 12वें नंबर की टीम और 13वें नंबर की पाकिस्तान के बीच मुकाबले में दोनों में कुछ भी चीज अलग नहीं थी. मलेशिया ने तीसरे ही मिनट में दो पेनल्टी कॉर्नर हासिल कर अच्छी शुरुआत की. लेकिन दोनों प्रयास विफल रहे. फिर पाकिस्तान ने पेनल्टी कॉर्नर हासिल किया, पर अलीम बिलाल की ड्रैग फ्लिक को मलेशियाई गोलकीपर कुमार सु्ब्रमण्यम में गोल में तब्दील होने से रोक दिया.

Pakistan's Ajaz Ahmad fights for the ball with Malaysia's Fitri Saari during the field hockey group stage match between Malaysia and Pakistan at the 2018 Hockey World Cup in Bhubaneswar on December 5, 2018. (Photo by Dibyangshu SARKAR / AFP)

नौंवे मिनट में मलेशिया गोल करने के करीब आ गया था लेकिन पाकिस्तानी गोलकीपर इमरान बट ने एक और शानदार बचाव कर रजी रहीम का शॉट गोल से दूर कर दिया. अंत में यह अनुभव का ही मुकाबला रह गया, अनुभवी सुब्रमण्यम ने तस्वर अब्बास के मिडफील्ड से किए गए पास पर रिवर्स फ्लिक को बेहतरीन तरीके से नाकाम किया. पाकिस्तान ने ज्यादातर सेंटर से हमले किए जिसमें से 80 प्रतिशत शॉट सर्कल के अंदर से लगे थे जबकि मलेशियाई टीम दायीं ओर से जगह ढूंढने के लिए प्रयासरत रही.

Hockey world cup 2018, Points Table, Pool D:  जानिए क्या है पूल की स्थिति

फैजल सारी ने मलेशिया के लिए चौथा पेनल्टी कॉर्नर 23वें मिनट में हासिल किया लेकिन बट फिर से उनके लिए बाधा बन गए. दोनों टीमों ने तेजी और चतुराई से एक दूसरे के खेमे में सेंध लगाने के प्रयास किए, पर दोनों इन्हें बाक्स के अंदर नहीं पहुंचा सकी. हाफ टाइम के दो मिनट पहले उमर भुट्टा ने पाकिस्तान को दूसरा शॉर्ट कॉर्नर दिलाया पर बिलाल की ड्रैग फ्लिक रनर के पैर में टकरा गई जिससे उन्हें एक और मौका मिला पर उन्होंने इसे गंवा दिया. पहले दो क्वार्टर में कोई गोल नहीं हुआ.

अंत में पाकिस्तान को 51वें मिनट में सफलता मिली, जिसमें कप्तान मोहम्मद रिजवान का परफेक्ट पास अतीक के पास पहुंचा जिन्होंने इसे 360 डिग्री की स्पिन से गोल में पहुंचाने में जरा गलती नहीं की और सुब्रमण्यम देखते रह गए. मलेशियाई टीम में गोल के लिए बेताब दिखी क्योंकि टूर्नामेंट में बने रहने के लिए यह जरूरी था. हूटर से पांच मिनट पहले ही उनका प्रयास सफल रहा जब उन्हें पांचवां पेनल्टी कॉर्नर मिला और सारी ने बॉल को ऊंचा उठाकर पाकिस्तानी गोल में पहुंचाया और अंक बांटने में कामयाबी हासिल की.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi