Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

हॉकी इंडिया लीग: अपने घर में भी नहीं जीत पाई दिल्ली

जेपी पंजाब वॉरियर्स ने दिल्ली वेवराइडर्स को दी मात

FP Staff, IANS Updated On: Feb 07, 2017 09:56 PM IST

0
हॉकी इंडिया लीग: अपने घर में भी नहीं जीत पाई दिल्ली

मिंक वान डर वीर्डन के गोल ने घरेलू टीम को निराश किया. लेकिन मेहमान जेपी पंजाब वॉरियर्स ने हॉकी इंडिया लीग (एचआईएल) में अपनी दूसरी जीत दर्ज करने में कामयाबी पाई. दिल्ली के शिवाजी स्टेडियम में खेले गए मैच में पंजाब ने मेजबान दिल्ली वेवराइडर्स को 3-2 से मात दी.

मेजबान टीम ने इस मैच में मौके तो ज्यादा बनाए. लेकिन इन मौकों को गोल में तब्दील करने में नाकाम रहे. मौकों को भुनाने में नाकाम रहने की वजह से दिल्ली की टीम अपने घर में हुए सीजन के पहले मैच में जीत से महरूम रही.

पंजाब के लिए दो गोल वान डर होर्स्ट और वीर्डन ने किए. दिल्ली के लिए एक गोल ट्रिस्टन व्हाइट ने किया. इस जीत के बाद पंजाब की टीम तीसरे स्थान पर आ गई है. अपने घर में खेल रही दिल्ली ने आक्रामकता दिखाई और शुरुआती मिनट में पंजाब के घेरे में जगह बनाई. पंजाब ने भी पलटवार किया और मेजबान की आक्रामकता का आक्रामकता से जवाब दिया. पहले क्वार्टर में दोनों टीमों ने इसी अंदाज में खेला. इस दौरान दोनों टीमों ने कई मौके बनाए लेकिन उन्हें गोल में बदलने में असफल रहे.

पहला क्वार्टर सामप्ति की ओर था, तभी पंजाब ने अपना खाता खोला. सतबीर सिंह के पास को होर्स्ट ने शानदार बैकहैंड के जरिए गोलपोस्ट की दिशा दिखाई. यह फील्ड गोल था. गौरतलब है कि एचआईएल में एक फील्ड गोल को दो गोल माना जाता है. मेजबानों ने तुंरत पलटवार करते हुए मौका बनाया लेकिन वह गोल नहीं कर सके.

दूसरे क्वार्टर में भी दिल्ली ने तेज शुरुआत की और साइमन चाइल्ड ने गोलपोस्ट पर निशाना साधा, लेकिन पंजाब के गोलकीपर क्लेमोंस ट्रिस्टान ने गेंद को रोक लिया. इस क्वार्टर में अमनदीप ने दो मौके बनाए लेकिन सामंजस्य की कमी के कारण वह गोल नहीं कर पाए.

punjab 1

मध्यांतर तक पंजाब ने दिल्ली पर 2-0 की बढ़त ले ली थी. तीसरे क्वार्टर की शुरुआत में दिल्ली ने एक बार फिर मौका बनाया. लेकिन वह इस बार भी गोल नहीं कर सके. 37वें मिनट में पंजाब के मिर्को पुरजीसर बढ़त को दोगुना करने का मौका नहीं भुना पाए.

आखिरकार 39वें मिनट में व्हाइट ट्रिस्टन ने शानदार फील्ड गोल कर दिल्ली को बराबरी दिलाई. चार मिनट बाद दिल्ली को दूसरा फील्ड गोल करने का अवसर मिला. लेकिन अमनदीप की किस्मत ने इस बार भी उनका साथ नहीं दिया.

तीसरे क्वार्टर के अंतिम मिनट में पंजाब को पहला पेनल्टी कॉर्नर मिला. लेकिन पंजाब विविधता दिखाने के चक्कर में गोल करने के मौके को गंवा बैठी. चौथे क्वार्टर में दिल्ली को एक और पेनल्टी कॉर्नर मिला लेकिन रूपिंदर पाल सिंह गेंद को गोलपोस्ट से बाहर खेल बैठे.

आखिरी पलों में गोल के लिए उतावली हो रही दोनों टीमों ने कोशिश काफी की, लेकिन पंजाब की टीम बाजी मार ले गई. 53वें मिनट में उसे अपना दूसरा पेनल्टी कॉर्नर मिला और इस बार वीर्डन ने उसे गोल में बदल कर अपनी टीम को 3-2 से आगे कर दिया, जो विजयी स्कोर बना.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi