S M L

डेविस कप: दिल्‍ली को मिल सकती है इटली के खिलाफ मुकाबले की मेजबानी

कप्तान महेश भूपति ग्रास कोर्ट पर खेलने के इच्छुक हैं. भूपति के कार्यकाल में बढ़ोतरी किए जाने की पूरी संभावना है

Updated On: Oct 01, 2018 06:53 PM IST

Bhasha

0
डेविस कप: दिल्‍ली को मिल सकती है इटली के खिलाफ मुकाबले की मेजबानी

भारत और इटली के बीच अगले साल फरवरी में डेविस कप क्वालीफायर का मुकाबला दिल्ली में हो सकता है. कुल 24 टीमें एक और दो फरवरी को नॉकआउट क्वालिफायर्स में हिस्सा लेंगी, जिसमें से 12 टीमें साल के आखिर में फाइनल्स में खेलेंगी. भारतीय टीम विश्व ग्रुप प्लेऑफ में सर्बिया से हार गया था, लेकिन विश्व रैंकिंग में 20वें नंबर पर होने के कारण उसके पास फाइनल्स में जगह बनाने का मौका है. इटली इस साल क्वार्टर फाइनल में हार गया था और नए प्रारूप के अनुसार 2018 के केवल चार सेमीफाइनलिस्ट और दो वाइल्ड कार्ड अर्जेंटीना और ब्रिटेन को ही सीधा प्रवेश मिलेगा.

मुकाबलों की विजेता मैड्रिड जाएगी

फरवरी में होने वाले मुकाबलों के 12 विजेता और ये छह टीमें नवंबर 2019 में मैड्रिड में होने वाले 18 टीमों के फाइनल्स में हिस्सा लेंगी. एआईटीए के सूत्र ने कहा कि हाल की चर्चाओं के अनुसार दिल्ली फरवरी में इटली के खिलाफ होने वाले मुकाबले की डीएलटीए में मेजबानी कर सकता है. सूत्र ने कहा कि कप्तान महेश भूपति ग्रास कोर्ट पर खेलने के इच्छुक हैं. भूपति के कार्यकाल में बढ़ोतरी किए जाने की पूरी संभावना है, लेकिन दिल्ली में ग्रास कोर्ट पर खेलना काफी खर्चीला होगा. दिल्ली जिमखाना एक विकल्प हो सकता है तो एआईटीए सूत्र ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास के करीब होने के कारण सुरक्षा कारणों से कई पाबंदियां होगी इसलिए यह संभव नहीं है. चेन्नई का गर्म मौसम इटली की मजबूत टीम के लिए अनुकूल होगा, लेकिन एक अन्य सूत्र ने गोपनीयता की शर्त पर कहा कि टीएनटीए अध्यक्ष विजय अमृतराज वैसे भी मेजबानी के पक्ष में नहीं हैं.

21 साल भारत के सामने होगी इटली

दिल्ली ने हाल में डीएलटीए में स्पेन और चेक गणराज्य की मेजबानी की है. भारत 21 साल बाद इटली का सामना करेगा. इन दोनों टीमों के बीच आखिरी मुकाबला 1998 में खेला गया था. तब इटली ने जेनोआ में अपनी धरती पर जीत दर्ज की थी. इटली की टीम में विश्व में 13वें नंबर के फैबियो फोगनिनी हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi