S M L

टेनिस क्वीन शारापोवा के खिलाफ दिल्ली में एफआईआर दर्ज करने का आदेश

एक घर खरीदार की शिकायत पर एक बिल्डर कंपनी, उसके अधिकारियों और टेनिस खिलाड़ी मारिया शारापोवा के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज

Updated On: Nov 02, 2017 01:25 PM IST

FP Staff

0
टेनिस क्वीन शारापोवा के खिलाफ दिल्ली में एफआईआर दर्ज करने का आदेश

हमारे देश में घर खरीदने के मामलों में होने वाली धोखाधड़ी और उससे जुड़े मुकदमों की कोई कमी नहीं है. आमतौर पर इस तरह के मामले सामने आते ही रहते हैं. लेकिन तब आप क्या कहेंगे जब ऐसे किसी मामले में इंटरनेशनल टेनिस क्वीन मारिया शारापोवा का नाम भी शामिल हो जाए और उन्हें भी ऐसी धोखाधड़ी में अभियुक्त बना दिया जाए.

दिल्ली ऐसा ही हुआ है और शारापोवा के खिलाफ एफआईआर तक दर्ज हुई है. दरअसल दिल्ली की एक अदालत ने एक घर खरीदार की शिकायत पर एक बिल्डर कंपनी, उसके अधिकारियों और इंटरनेशनल  टेनिस स्टार  मारिया शारापोवा के खिलाफ धोखाधड़ी के मामले में एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है.

गुरुग्राम निवासी भावना अग्रवाल का आरोप है कि होम्सटेड इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट प्रा. लि. ने सेक्टर 73 में ऐस बाई शारापोवा’ नाम के रिहायशी प्रोजेक्ट में एक फ्लैट के एवज में उनसे वर्ष 2013 में 53 लाख रुपये जमा करवाए थे. बिल्डर की ओर से कहा गया था कि शारापोवा खुद टेनिस एकेडमी चलाएंगी. बिल्डर कंपनी का दावा था कि प्रोजेक्ट पहली किस्त जमा कराने के तीन साल में पूरा हो जाएगा. लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

भावना ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाते हुए धोखाधड़ी, जालसाजी और अमानत में खयानत के आरोप में एफआईआर दर्ज करने का आदेश देने की मांग की थी.

विज्ञापन और कंपनी की वेबसाइट पर दावा किया गया कि इस प्रोजेक्ट में मारिया शारापोवा की एकेडमी होगी. वह जब भी भारत का दौरा करेंगी तब यहां ट्रेनिंग सेशन चलाएंगी लेकिन ऐसा हुआ नहीं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi