S M L

तो क्या भारतीय टेनिस में एक और विवाद खड़ा होने का इंतजार कर रहा है...

इटली के खिलाफ डेविस कप मुकाबलों के बाद भूपति की कप्तानी को लेकर हो सकता है विवाद

Updated On: Jan 31, 2019 10:44 PM IST

FP Staff

0
तो क्या भारतीय टेनिस में एक और विवाद खड़ा होने का इंतजार कर रहा है...

डेविस कप में भारत के गैरखिलाड़ी कप्तान महेश भूपति को बरकरार रखने के लिए भारतीय टीम के सदस्यों ने खुलकर समर्थन करना शुरू कर दिया है.

रोहन बोपन्ना और प्रजनेश गुणेश्वरन जैसे सीनियर खिलाड़ियों ने महेश भूपति को कप्तान बनाए रखने की वकालत की जिनका करार  इटली के खिलाफ शुक्रवार से शुरू होने वाले डेविस कप मुकाबले में टीम के प्रदर्शन के बाद तय होगा.

भूपति को अप्रैल 2017 में आनंद अमृतराज की जगह कप्तान बनाया गया था और उनका कार्यकाल इटली के खिलाफ मुकाबले के बाद समाप्त हो रहा है. अखिल भारतीय टेनिस संघ यानी एआईटीए के एक सीनियर अधिकारी ने पीटीआई से कहा था कि भूपति का कार्यकाल बढ़ाए जाने की संभावना नहीं है. लेकिन एक समय उनके युगल जोड़ीदार रहे बोपन्ना ने बताया कि भूपति ने टीम में क्या नयी चीज जोड़ी है यानी उनके योगदान में तया खास रहा है.

बोपन्ना ने कहा, ‘उनके आने के बाद खिलाड़ियों के साथ अधिक संवाद स्थापित हुआ और ऐसा केवल डेविस कप के दौरान नहीं बल्कि साल भर होता है. इससे बड़ा बदलाव आया.’ उन्होंने कहा, ‘आप भले ही उनसे अक्सर नहीं मिल सकते लेकिन लगातार संवाद होने से जब आप डेविस कप खेलने के लिये उतरते हो तो आप निकटता महसूस करते हो. इससे वास्तव में मदद मिलती ह. हमारे लिये यह बहुत अच्छी बात है कि वह हमारा कप्तान है. वह हमसे सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करवाने और बेहतर टेनिस खिलाड़ी बनने में मदद करता है.’

भूपति की अगुवाई में भारत दो बार विश्व ग्रुप प्लेऑफ चरण तक पहुंचा लेकिन दोनों अवसरों पर उसे हार का सामना करना पड़ा.

अब अगर भूपति को कप्तानी के हटाया जाता है तो फिर भारतयी टेनिस में क बार फिर से विवाद खड़ा होना तय है. (Input PTI)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi