S M L

CWG 2018: बैडमिंटन के डबल्स वर्ग का सूखा दूर करने उतरेगी युवा जोड़ी

भारत आज तक पुरुष डबल्स कैटेगरी में मेडल हासिल करने में नाकाम रहा है, सात्विक और चिराग से मेडल की उम्मीदें होगी

FP Staff Updated On: Mar 31, 2018 01:49 PM IST

0
CWG 2018: बैडमिंटन के डबल्स वर्ग का सूखा दूर करने उतरेगी युवा जोड़ी

नाम- सात्विक साईराज रंकीरेड्डी  और चिराग शेट्टी

खेल - बैडमिंटन

उम्र- सात्विक- 17 साल, चिराग - 20 साल

कैटेगरी- डबल्स

भारतीय शटलरों से इस बार भारत को बहुत उम्मीदें है. सिंग्लस के अलावा इस बार भारत की डबल्स वर्ग में भी भारत ऐसी मेडल की उम्मीद करेगा. पुरुष डबल्स मुकाबले में इस बार 17 साल के सात्विक रनकीरेड्डी और 20 साल के चिराग शेट्टी चुनौती पेश करेंगे. अपना पहला कॉमनवेल्थ खेल रहे दोनों युवा खिलाड़ियों की इस वर्ग में भारत को पहला गोल्ड मेडल जीताने उतरेंगे.

दोनों अब तक कई बार अपनी कबिलियत साबित कर चुके हैं लेकिन मेडल हासिल नहीं कर पाए हैं. इस बार उनका मुकाबला आसान नहीं होने वाला है क्योंकि उनका सामना ओलिंपिक में सिल्वर और ब्रॉन्ज मेडल विजेता इंग्लैंड और मलेशिया जैसी टीमों से होना है. इसके बावजूद वह जीत को लेकर आश्वस्त हैं. वह पिछले काफी से अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और यही उनके विश्वास का कारण है.

चिराग और सात्विक के लिए उनकी सबसे बड़ी ताकत है उनकी हाईट. लगभग छह फुट के दोनों खिलाड़ियों को उनके मलेशियन कोच ने इसी वजह से जोड़ीदार बनाया है. जहां एक ओर चिराग मुंबई जैसे बड़े शहर से आए थे वहीं सात्विक आंध्र प्रदेश के एक छोटे से गांव से आए थे. इसके बावजूद अब दोनों के बीच अच्छा ताल-मेल बैठ चुका है. 2016 में दोनों ने टाटा इंडियन इंटरनेशनल चैलेंज जीता था जिसके बाद वह सुर्खियों में आए. दोनों के लिए सबसे बड़ी जीत उन्हें मिली साल 2017 में वियतनाम ओपन में जहां उन्होंने ओलिंपिक और वर्ल्ड चैंपियन मारकिस किडो और हेंडरा गुनावन को हराकर खिताब जीता था. उन्होंने ग्लासगो वर्ल्ड चैंपियनशिप के क्वालिफाई किया. साल 2018 में वह इंडोनेशिया ओपन के सेमीफाइनल मे पहुंचे. इसकी बदौलत वह रैंकिंग में टॉप 20 में पहुंचे. हमेशा खिताब के करीब आकर चूक जाने वाली यह जोड़ी इस बार भारत को इस वर्ग में मेडल दिलाना चाहेगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi