S M L

CWG 2018: क्या बदली हुई कैटेगरी में भी गोल्ड हासिल कर पाएंगी संजीता चानू

पिछले कॉमनवेल्थ गेम्स में 48 किलोग्राम कैटेगरी में गोल्ड हासिल करने वाली संजीता इस बार 53 किलोग्राम की कैटगरी में हिस्सा लेंगीं

Updated On: Mar 30, 2018 08:49 PM IST

FP Staff

0
CWG 2018: क्या बदली हुई कैटेगरी में भी गोल्ड हासिल कर पाएंगी संजीता चानू

नाम : संजीता चानू

उम्र:  24 साल

खेल: वेटलिफ्टिंग

केटेगरी: 53 किलोग्राम

2014 कॉमनवेल्थ में प्रदर्शन: गोल्ड, 48 किग्रा कैटेगरी

भारत के नॉर्थ-ईस्ट इलाके के मणिपुर राज्य ने एन कुंजारानी की स्वर्णिम कामयाबी के बाद वेटलिफ्टिंग में एक से बढ़कर एक महिला विटलिफ्टर पैदा की हैं. कुंजारानी को अपना आदर्श मानने वाली संजीता चानू भी उनमें से एक हैं.

पिछले कॉमनवेल्थ खेलों में 48 किलोग्राम की कैटेगरी में गोल्ड और सिल्वर दोनों ही मेडल भारत के नाम रहे थे . उस वक्त महज 20 साल की रहीं संजीता चानू ने भारत की ही मीराबाई चानू को पीछे छोड़ते हुए गोल्ड मेडल अपने नाम किया था.

संजीता ने स्नैच में 77 किलोग्राम और क्लीन एंड जर्क में 96 किलोग्राम समेत कुला 173 किलोग्राम वजन उठाकर गोल्ड मेडल हासिल किया था. संजीता का यह प्रदर्शन कॉमनवेल्थ खेलों के रिकॉर्ड से बस दो किलाग्राम ही कम था.

गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में संजीता के कंधों पर बड़ी जिमेमदारी है. अब वह बदली हुई कैटेगरी  यानी 53 किलोग्राम की कैटगरी में हिस्सा ले रही है और उनपर इस नई कैटगरी में भी पिछला यानी गोल्ड मेडल वाला प्रदर्शन दोहराने की जिम्मेदारी है.

संजीता ने पिछले साल कॉमनवेल्थ वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप्स में गोल्ड मेडल जीतकर कॉमनवेल्थ गेम्स के लिए क्वालिफाइ किया है. इस चैंपियनशिप्स में संजीता ने कुल 195 किलोग्राम( 85+110) किग्रा वजन उठाकर गोल्ड मेडल हासिल किया है.

हालंकि संजीता का मौजूदा प्रदर्शन ज्यादा अच्छा नहीं रहा है और वर्ल्ड चैंपियनशिप्स में वह पांचवें स्थान पर रही थीं. यही नहीं पिछले साल अर्जुन अवॉर्ड के लिए नजरअंदाज किए जाने पर उन्होंने दिल्ली हाइकोर्ट ने अर्जी भी दाखिल की थी.

इन तमाम बातों के बीच संजीता के ऊपर खुद को इस नई कैटेगरी में साबित करने का दबाव जरूर होगा. देखना होगा कि इस दबाव में उनका प्रदर्शन कितना निखरकर सामने आ पाता है.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi