S M L

CWG 2018: गोल्ड कोस्ट में शानदार रहा भारतीय मुक्केबाजों का प्रदर्शन, जीते कुल 9 मेडल

21वें कॉमनवेल्थ गेम्स के मुक्केबाजी में हिस्सा लेने पहुंचे 12 में से नौ भारतीयों ने मेडल जीता

FP Staff Updated On: Apr 15, 2018 03:34 PM IST

0
CWG 2018: गोल्ड कोस्ट में शानदार रहा भारतीय मुक्केबाजों का प्रदर्शन, जीते कुल 9 मेडल

21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में भारतीय मुक्केबाजों ने शानदार खेल का प्रदर्शन करते हुए कुल 9 मेडल अपने नाम किए, जिनमें तीन गोल्ड, तीन सिल्वर और तीन ब्रॉन्ज मेडल शामिल हैं. मुक्केबाजों के सफल प्रदर्शन का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि इन खेलों में भेजे गए कुल 12 मुक्केबाजों में से नौ मुक्केबाज कोई न कोई मेडल हासिल करने में कामयाब हुआ है. जबकि पिछले कॉमनवेल्थ गेम्स में भेजे गए 11 खिलाड़ियों में से सिर्फ पांच ही मेडल जीतने में कामयाब हुए थे, और उनमें भी कोई गोल्ड नहीं था.

ग्लास्गो में गोल्ड का था सूना, गोल्ड कोस्ट में तीन गोल्ड मेडल जीते

2014 ग्लास्गो में भारत एक भी गोल्ड मेडल हासिल नहीं कर पाया था जबकि गोल्ड कोस्ट में भारतीय मुक्केबाजों ने तीन गोल्ड मेडल अपने नाम किए. इसकी शुरुआत ओलिंपिक ब्रॉन्ज मेडल विजेता एम सी मैरीकॉम ने 45-48 किग्रा भार वर्ग में गोल्ड मेडल जीत कर की. पहली बार कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा लेने वाली मैरीकॉम ने पहली ही बार में यह कमाल कर दिखाया.

भारत की ओर से मुक्केबाज विकास कृष्णन ने भी अपने पदार्पण कॉमनवेल्थ गेम्स मे गोल्डन पंच लगाया. विकास ने 75 किग्रा वर्ग में गोल्ड मेडल जीता था. इन्हीं खेलों में भारत को तीसरा गोल्ड गौरव सोलंकी ने 52 किग्रा वर्ग में दिलाया. गौरव का कॉमनवेल्थ गेम्स में यह पहला मेडल है.

तीन सिल्वर और तीन ब्रॉन्ज पर भी जमाया कब्जा

पिछले कॉमनवेल्थ से बेहतर प्रदर्शन करते हुए भारतीय मुक्केबाजों ने गोल्ड कोस्ट में तीन सिल्वर और तीन ब्रॉन्ज मेडल भी अपने नाम किए. भारत के अमित ने 46-49 किग्रा में, मनीष कौशिक ने 60 किग्रा और +91 किग्रा वर्ग में सतीश कुमार ने सिल्वर मेडल अपने नाम किया.वहीं मोहम्मद हुसैमुद्दीन, मनोज कुमार और नमन तंवर ने भी क्रमशः 56 किग्रा, 69किग्रा और 91 किग्रा वर्ग में ब्रॉन्ज मेडल पर कब्जा किया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi