S M L

CWG History : 1970 स्कॉटलैंड के एडिनबरा में भारत ने किया था अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

भारत ने ट्रिपल जम्प, बॉक्सिंग और वेटलिफ्टिंग और कुश्ती में 12 मेडल जीते थे जो तबतक का भारत का सबसे बेहतर प्रदर्शन था

FP Staff Updated On: Apr 03, 2018 12:38 PM IST

0
CWG History : 1970 स्कॉटलैंड के एडिनबरा में भारत ने किया था अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

कॉमनवेल्थ गेम्स का नौवां संस्करण ब्रिटिश कॉमनवेल्थ गेम्स के नाम से 1970 में स्कॉटलैंड के एडिनबरा में आयोजित किया गया. इन खेलों में पहली बार इलेक्ट्रॉनिक फोटो फिनिश तकनीक का इस्तेमाल किया गया. महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने कॉमनवेल्थ के प्रमुख के तौर पर पहली बार कॉमनवेल्थ गेम्स में शिरकत की. इस बार देशों की संख्या भी बढ़ी और खिलाड़ियों की भी. एडिनबरा में 42 देशों के 1744 खिलाड़ियों और अधिकारियों ने हिस्सा लिया. इसमें भी नौ खेलों की स्पर्धाओं के लिए मुकाबले हुए जिनमें एथलेटिक्स, बॉक्सिंग, साइकिलिंग, तलवारबाजी, बैडमिंटन, लॉन बाउलिंग, स्विमिंग व डाइविंग, वेटलिफ्टिंग और रेसलिंग शामिल थे. एडिनबरा में पांच नए रिकॉर्ड बने. दो-दो एथलेटिक्स और वेटलिफ्टिंग में, जबकि एक साइकिलिंग में.

भारत ने रेसलिंग में लगाई मेडल्स की झड़ी

लीला राम ने 1958 में रेसलिंग में गोल्ड मेडल दिलाने का जो सिलसिला शुरू किया था, वो यहां भी जारी रहा. भारत ने रेसलिंग में पांच गोल्ड मेडल सहित नौ मेडल जीते और उसके कुल मेडल्स की संख्या 12 रही. रेसलिंग में वेद प्रकाश, सुदेश कुमार, उदय चंद, मुख्तियार सिंह और हरीशचंद्र बिराजदार ने गोल्ड जीते. सज्जन सिंह, विश्वनाथ सिंह और मारूति माने ने सिल्वर, जबकि रंधावा सिंह ने कुश्ती में ब्रॉन्ज मेडल दिलाया. मोहिंदर पाल सिंह गिल ने पुरुषों की ट्रिपल जम्प, शिवाजी भोसले ने बॉक्सिंग और एलेक्जेंडर नेविस ने वेटलिफ्टिंग में ब्रॉन्ज जीता. भारत मेडल तालिका में छठे स्थान पर रहा था.

कुल मेडल्स में इंग्लैंड फिर ऑस्ट्रेलिया से आगे

यहां ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को गोल्ड मेडल के मामले में पीछे छोड़ दिया, लेकिन मेडल की कुल संख्या इंग्लैंड की ज्यादा रही. ऑस्ट्रेलिया को 36 गोल्ड के साथ कुल 82 मेडल मिले, जबकि इंग्लैंड को 27 गोल्ड के साथ कुल 84 मेडल मिले. कनाडा 18 गोल्ड के साथ तीसरे स्थान पर रहा तो मेजबान स्कॉटलैंड ने काफी बेहतर प्रदर्शन किया और छह गोल्ड के साथ कुल 25 मेडल जीते. पाकिस्तान को चार गोल्ड मिले और चारों कुश्ती में.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi