S M L

CWG 2018, Hockey: ब्रॉन्ज पर भी कब्जा नहीं कर पाई पुरुष टीम, इंग्लैंड ने दी मात

भारतीय पुरुष हॉकी टीम को ब्रॉन्ज मेडल के प्ले ऑफ में इंग्लैंड के खिलाफ 1-2 की शिकस्त के साथ कॉमनवेल्थ गेम्स में निराशाजनक चौथे स्थान के साथ संतोष करना पड़ा

Updated On: Apr 14, 2018 09:01 PM IST

Bhasha

0
CWG 2018, Hockey: ब्रॉन्ज पर भी कब्जा नहीं कर पाई पुरुष टीम, इंग्लैंड ने दी मात

भारतीय पुरुष हॉकी टीम को ब्रॉन्ज मेडल के प्ले ऑफ में इंग्लैंड के खिलाफ 1-2 की शिकस्त के साथ कॉमनवेल्थ गेम्स में निराशाजनक चौथे स्थान के साथ संतोष करना पड़ा. इंग्लैंड ने इसके साथ ही ग्रुप चरण में भारत के खिलाफ 3-4 की हार का बदला चुकता कर दिया. इंग्लैंड की ओर से सैम वार्ड (सातवें और 43 वें मिनट) ने दो गोल दागे जबकि भारत की ओर एकमात्र गोल वरुण कुमार ने 27 वें मिनट में किया. भारत ने पिछले दो टूर्नामेंट में सिल्वर मेडल जीते और दोनों बार उसे ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ फाइनल में हार का सामना करना पड़ा था. भारतीय कप्तान मनप्रीत सिंह इस नतीजे से निराश हैं.

उन्होंने कहा , ‘हम यहां मेडल जीतने के लिए आए थे लेकिन हम यह हासिल नहीं कर पाए. इस टूर्नामेंट में हम काफी खराब खेले. हम काफी निराश हैं, हमने उम्मीद नहीं की थी कि इस दौरे पर यह नतीजा रहेगा.’ उन्होंने कहा , ‘हमें कई चीजों में सुधार करना होगा,  जैसे प्रत्येक मौके का फायदा उठाना क्योंकि प्रत्येक मैच में हमें पहले दो मिनट में मौके मिले लेकिन हम हमेशा इसका फायदा उठाने में चक गए.’

भारत ने फाउल करके इंग्लैंड को पहला पेनल्टी कॉर्नर मिला. वार्ड के प्रयास को अमित रोहिदास ने रोक दिया लेकिन दूसरे प्रयास में वार्ड ने दाएं छोर पर गोल दागकर सातवें मिनट में इंग्लैंड को 1-0 से आगे कर दिया. भारतीय फारवर्ड्स को इंग्लैंड की मैन टू मैन मार्किंग से काफी परेशानी हुई. भारत के लिए मनदीप सिंह और ललित उपाध्याय ने इसके बाद अच्छा मौका बनाया. रोहिदास और वरुण ने इसके बाद अच्छे तालमेल से गोल दागकर भारत को 1-1 से बराबरी दिला दी.

भारत को 31 वें मिनट में एक और मौका मिला लेकिन ललित के शाट को मनदीप गोल की राह नहीं दिखा सके. इंग्लैंड के भारतीय डिफेंस की खामी से 39 वें और 42 वें मिनट में दो पेनल्टी कार्नर मिले. भारतीय गोलकीपर पीआर श्रीजेश ने वार्ड की पहली ड्रैग फ्लिक को रोका लेकिन दूसरी पेनल्टी कार्नर को वार्ड ने गोल में डालकर इंग्लैंड को 2-1 से आगे कर दिया. भारत ने इसके बाद बराबरी हासिल करने की भरसक कोशिश की लेकिन सफलता नहीं मिली.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi