S M L

CWG 2018: 1938 सिडनी खेलों के उद्घाटन से क्रिकेट ग्राउंड एससीजी हुआ था मशहूर

ऑस्ट्रेलिया का दबदबा रहा, इस बार भारत को कोई पदक नहीं मिल सका

Updated On: Apr 01, 2018 02:12 PM IST

FP Staff

0
CWG 2018: 1938 सिडनी खेलों के उद्घाटन से क्रिकेट ग्राउंड एससीजी हुआ था मशहूर
Loading...

ब्रिटिश एंपायर गेम्स का तीसरा संस्करण 1938 में ऑस्ट्रेलिया के शहर सिडनी में हुआ. ऑस्ट्रेलिया के मशहूर सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) में इसका उदघाटन समारोह हुआ. 40,000 दर्शकों की भारी संख्या ने इसका लुत्फ लिया.

इसमें कुल 15 देशों के 464 एथलीटों और 43 अधिकारियों ने हिस्सा लिया. नए देश के तौर पर फिजी और सिलोन यानी श्रीलंका ने पहली बार इसमें हिस्सा लिया. सिडनी में सात खेलों के मुकाबले हुए, एथलेटिक्स, मुक्केबाजी, साइकिलिंग, लॉन बाउल्स, नौकायन, तैराकी, डाइविंग और कुश्ती.

ऑस्ट्रेलिया का रहा दबदबा

इन खेलों में लोग ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड से बेहतर प्रदर्शन की आशा कर रहे थे. मेजबान देश के खेलप्रेमी चाहते थे कि इंग्लैंड के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी किसी तरह से उन्नीस ना पड़ें. ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी उम्मीदों पर खरे उतरे और 71 स्वर्ण पदकों में से उन्होंने 25 पर कब्जा कर लिया. इस बार मुक़ाबले में इंग्लैंड को सिर्फ 15 स्वर्ण पदक से ही संतोष करना पड़ा. ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को रजत और कांस्य पदकों की तालिका में भी पीछे छोड़ दिया. कुल पदकों की तालिका में ऑस्ट्रेलिया 66 पदकों के साथ पहले, कनाडा, 44 पदकों के साथ दूसरे और इंग्लैंड 40 पदकों के साथ तीसरे स्थान पर रहा. कुश्ती के मुकाबलों में ऑस्ट्रेलियाई पहलवानों ने कुल छह स्वर्ण पदक जीते.

पहली बार शामिल श्रीलंका ने स्वर्ण पदक जीता

न्यूजीलैंड ने पांच स्वर्ण के साथ कुल 25 पदक जीते, जबकि साउथ अफ्रीका ने 10 स्वर्ण के साथ 26 पदक जीते. इस बार भारत को कोई पदक नहीं मिल सका. बरमूडा इस बार भी अपना खाता खोलने में विफल रहा. पहली बार शामिल होने वाले देश श्रीलंका ने 57 किलो ग्राम वर्ग मुक्केबाजी मुकाबले में स्वर्ण पदक हासिल किया. फिजी और त्रिनिदाद एंड टोबैगो को भी कोई पदक नहीं मिला.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi