S M L

CWG 2018: 2 डॉक्टर्स और एक गोल्ड, जानें कैसे भारत ने मारी बाजी

25 मीटर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल में अंतिम दो में भारत की हीना सिद्धू और आॅस्ट्रेलिया की एलिना के बीच कड़ा मुकाबला चल रहा था

Kiran Singh Updated On: Apr 10, 2018 03:22 PM IST

0
CWG 2018: 2 डॉक्टर्स और एक गोल्ड, जानें कैसे भारत ने मारी बाजी

गोल्ड कोस्ट में गोल्ड की तलाश कर रही अनुभवी निशानेबाज को अपनी पहली कोशिश में सिल्वर से संतोष करना पड़ा, लेकिन उनकी यह तलाश आज पूरी हुई.  25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में हीना सिद्धू ने कॉमनवेल्थ गेम्स का रिकॉर्ड बनाते हुए गोल्ड अपने नाम कर लिया, इससे पहले 10 एयर पिस्टल में भारत की ही मनु भाकर ने उन्हें पीछे छोड़ते गोल्ड अपने नाम किया था और उन्हें नाम सिल्वर रहा था.

Shooting - Gold Coast 2018 Commonwealth Games - Women's 25m Pistol - Final - Belmont Shooting Centre - Brisbane, Australia - April 10, 2018. Gold medalist Heena Sidhu of India, silver medalist Elena Galiabovitch of Australia and bronze medalist Alia Sazana Azahari of Malaysia. REUTERS/Eddie Safarik - UP1EE4A0HE63O

25 मीटर पिस्टल में भी गोल्ड जीतना उनके लिए आसान नहीं था, एक गलत निशाना एक बार फिर उन्हें आगे से पीछे खींच लेता. भारत की अन्नु छठे राउंड के बाद एलिमिनेट हो गई और एक- एक करके 8 में से छह निशानेबाज बाहर हो गए. अब मुकाबला गोल्ड के लिए था, एक डॉक्टर निशानेबाज का दूसरे डॉक्टर निशानेबाज से. मुकाबला जितना टफ था, उतना ही लोगों को यह देखने की उत्सुकता थी कि आॅस्ट्रेलियाई डॉक्टर एलिना का निशाना गोल्ड पर लगता है या भारत की डेंटिस्ट हीना सिद्धु अपनी तलाश को पूरा करती हैं.  हालांकि सिद्धू दो अंक की बढ़त बनाए हुए थी. गौरतलब है कि सिद्धू एक शुरुआत से ही एक डॉक्टर बनना चाहती थी और उन्होंने डेंटल सर्जरी के ग्रेजुशन किया है. उनके पिता भी एक नेशनल लेवल के निशानेबाज रह चुके है, जिस वजह से  घर में खेल का माहौल होने के कारण धीरे धीरे वह भी इस खेल की ओर आने लगी.

 

heena sidhu

आखिरी सीरीज में चूका बस एक निशाना

गोल्ड मेडल के लिए मुकाबला जब पांच शॉट्स की आखिरी सीरीज में पहुंचा तो उस वक्त सिद्धू के पास दो पॉइंट की बढ़त थी.  इस सीरीज में सिद्धू ने अपने शॉट्स पर पूरा कंट्रोल रखा और उनका बस एक शॉट ही निशाने पर नहीं लगा बाकी चारों शॉट्स कामयाब रहे. दूसरी ओर आॅस्ट्रेलियाई शूटर  चूक गई और पांच में से सिर्फ तीन ही निशाने सही लग पाए . हीना ने तीन अंको की बढ़त हासिल करते हुए गोल्ड अपने नाम कर लिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi