S M L

CWG 2018, Women's Weightlifting: कॉमनवेल्थ रिकॉर्ड के साथ चानू ने भारत को दिलाया पहला गोल्ड मेडल

चानू के 48 किग्रा वेट कैटेगरी में कुल 196 किग्रा वजन उठाकर गोल्ड अपने नाम कर लिया

Updated On: Apr 05, 2018 07:09 PM IST

Kiran Singh

0
CWG 2018, Women's Weightlifting:  कॉमनवेल्थ रिकॉर्ड के साथ चानू ने भारत को दिलाया पहला गोल्ड मेडल

भारत की उम्मीदों पर खरी उतरती हुई मीराबाई चानू अपने पदक का रंग बदलने में सफल रही और कॉमनवेल्थ रिकॉर्ड स्थापित करते हुए भारत को दिन का पहला गोल्ड मेडल दिला दिया. इससे पहले वेटलिफ्टिर गुरुराजा ने सिल्वर जीतकर भारत के दिन की शुरुआत की थी. चानू के 48 किग्रा वेट कैटेगरी में कुल 196 किग्रा वजन उठाकर गोल्ड अपने नाम कर लिया. इससे पहले चानू ने 2014 में ग्लास्गो कॉमनवेल्थ गेम्स में सिल्वर मेडल अपने नाम किया था, पिछली बार वह भारत की ही संजीता चानू से पीछे रह गई थी.

चानू ने स्नैच में कॉमनवेल्थ रिकॉर्ड स्थापित करते हुए 86 किग्रा वजन उठाया तो वही क्लीन एंड जर्क में भी कॉमनवेल्थ रिकॉर्ड बनाते हुए 110 किग्रा वजन उठाया. गौरतलब है कि भारत की महिला वेटलिफ्टर मीराबाई  चानू ने पिछले साल नवंबर में इसी कैटेगरी में वर्ल्ड वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच दिया था.

 

चानू ने अपनी हर लिफ्ट में कॉमनवेल्थ रिकॉर्ड बनाया

मीराबाई चानू में अपनी हर लिफ्ट में कॉमनवेल्थ रिकॉर्ड बनाया. अपनी छह लिफ्ट में छह बार रिकॉर्ड बनाकर चानू ने अपने गोल्ड मेडल को और भी खास बना दिया स्नैच में पहले प्रयास में 80, दूसरे प्रयास में 84 और तीसरे प्रयास में 86 किलोग्राम का वजन उठाया और तीनों ही रिकॉर्ड है. इसी तरह क्लीन एंड जर्क में भी पहले प्रयास में 103, दूसरे प्रयास में 107 और तीसरे प्रयास में 110 किलोग्राम वजन उठाकर दो बार अपना ही रिकॉर्ड बनाकर तोड़ा.

 

अधिक अंतर से जीती चानू

चानू के मेडल काफी अंतर ने अपने नाम किया. दूसरे नंबर पर मॉरीशस की मैरी हनीत रही, जिन्होंने कुल 170 वजन उठाया. स्नैच में 76 और क्लीन एंड जर्क में 94 वजन उठाया. वहीं तीसरे स्थान पर श्रीलंका की दिनुशा रही, जिन्होंने कुल 155 किग्रा वजन उठाया. स्नैच में 70 और क्लीन एंड जर्क में 85 किग्रा वजन उठाया.

 

वर्ल्ड चैंपियनशिप  के प्रदर्शन को भी पीछे छोड़ा

ग्लास्गो में मीराबाई ने 75 किग्रा स्नैच में और 95 किग्रा क्लीन एंड जर्क में मिला कर कुल 170 किलोग्राम वजन उठाया था. उसे बाद से मीराबाई के प्रदर्शन में जबरदस्त सुधार आया. पिछले साल वर्ल्ड चैंपियनशिप में 194( 85+109) किग्रा वजन उठाकर गोल्ड मेडल हासिल किया. कॉमनवेल्थ गेम्स में उनकी कैटेगरी का रिकॉर्ड 175 (77+98) किग्रा था. कॉमनवेल्थ खेलों में वेटलिफ्टिंग के इवेंट में 48 किलोग्राम की कैटेगरी में भारत का रिक़ॉर्ड बहुत बेहतर रहा है. 2002 के मैनचेस्टर गेम्स में जब इसे शामिल किया गया था तब भारत की एम कुंजारानी ने 2002 और 2006 के कॉमनवेल्थ गेम्स में इस कैटेगरी में गोल्ड मेडल हासिल किया था.

एम राजा चूके

62 किलोग्राम में भारत के एम राजा अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करके भी छठे स्थान पर रहे. 18 साल के सबसे युवा राजा ने स्नैच में 116 किलो और क्लीन एंड जर्क में 150 किलो का भार उठाया.मलेशिया के मुहम्मद अजनिल ने 288 किलो का कुल भार उठाकर इवेंट का गोल्ड अपने नाम किया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi